scorecardresearch
 

आजम खान को झटका, जौहर यूनिवर्सिटी की 140 बीघा जमीन का पट्टा निरस्त

रामपुर से समाजवादी पार्टी सांसद आजम खान को एक और बड़ा झटका लगा है. आजम खान की करोड़ों की जमीन का पट्टा निरस्त कर दिया गया है. सत्ता में रहते नदी की जमीन को यूपी सरकार से लीज पर लिया था. 30 साल के लिए जमीन लीज पर ली थी. इस कार्रवाई के बाद 140 बीघा जमीन आजम खान के कब्जे से बाहर होगी. कोसी नदी की इस जमीन पर जौहर यूनिवर्सिटी कैंपस है.

आजम खान (फाइल फोटो) आजम खान (फाइल फोटो)

रामपुर से समाजवादी पार्टी सांसद आजम खान को एक और बड़ा झटका लगा है. आजम खान की करोड़ों की जमीन का पट्टा निरस्त कर दिया गया है. सत्ता में रहते नदी की जमीन को यूपी सरकार से लीज पर लिया था. 30 साल के लिए जमीन लीज पर ली थी. इस कार्रवाई के बाद 140 बीघा जमीन आजम खान के कब्जे से बाहर होगी. कोसी नदी की इस जमीन पर जौहर यूनिवर्सिटी कैंपस है.

रेत की जमीन को आजम खान ने सत्ता में रहते तमाम नियम कानून को ताक पर रखते हुए प्रशासन से ये जमीन यूनिवर्सिटी के लिए लीज पर ली थी. मामला एसडीएम कोर्ट पहुंचा था, जांच में पाया गया कि जमीन सार्वजनिक उपयोग के लिए ली गई है. ये जमीन यूनिवर्सिटी कैंपस के अंदर है.

समाजवादी पार्टी (सपा) के वरिष्ठ नेता आजम खान को भूमफिया घोषित किए जाने वाले मामले को पार्टी की ओर से दोनों सदनों में बड़ी जोर-शोर से उठाया गया. हालांकि इस मुद्दे पर सपा को विपक्ष के अन्य दलों का साथ नहीं मिल पा रहा है. सपा ने रामपुर में मौलाना मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी की जमीनों को लेकर आजम खान के खिलाफ दर्ज करवाई जा रही एफआईआर का मुद्दा उठाया. आरोप लगाया कि आजम खान के परिवार को प्रताड़ित करने के लिए 26 एफआईआर दर्ज की गई हैं.

72cc947c-9178-44cb-a53d-6e0226f518f7_072619111824.jpg

3eae94fb-079e-4900-b4a8-1532cc0c76e5_072619111835.jpg

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें