scorecardresearch
 

पर्चा खारिज होने पर कोर्ट जाएंगे प्रकाश बजाज, राहत नहीं मिलने पर होगा निर्विरोध चुनाव

नामांकन खारिज होने के बाद निर्दलीय प्रत्याशी प्रकाश बजाज हाई कोर्ट जाएंगे. नामांकन खारिज होने के बाद उनकी तरफ से कोर्ट का रुख किए जाने की बात सामने आई है. अगर कोर्ट से उन्हें कोई राहत नहीं मिलती है और रिटर्निंग अफसर के फैसले पर यथास्थिति बनी रहती है तो राज्यसभा की 10 सीटों पर निर्विरोध चुनाव होंगे.

प्रकाश बजाज का पर्जा खारिज प्रकाश बजाज का पर्जा खारिज
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राज्यसभा के लिए निर्दलीय प्रत्याशी थे प्रकाश बजाज
  • पर्चा खारिज होने के बाद बजाज जाएंगे हाई कोर्ट
  • बजाज को राहत न मिलने पर चुनाव होगा निर्विरोध

उत्तर प्रदेश में राज्यसभा चुनाव को लेकर जांच प्रक्रिया में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के प्रत्याशी रामजी गौतम का पर्चा सही पाया गया है. उनकी उम्मीदवारी बची रहेगी. प्रस्तावक पांच बसपा विधायकों के अपना नाम वापस लिए जाने के बाद पार्टी में घमासान शुरू हो गया था. फिलहाल, निर्दलीय प्रत्याशी प्रकाश बजाज का पर्चा खारिज होने के बाद उन्होंने हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाने का फैसला किया है. 

नामांकन खारिज होने के बाद उनकी तरफ से कोर्ट का रुख किए जाने की बात सामने आई है. अगर कोर्ट से उन्हें कोई राहत नहीं मिलती है और रिटर्निंग अफसर के फैसले पर यथास्थिति बनी रहती है तो राज्यसभा की 10 सीटों पर निर्विरोध चुनाव होंगे. 

बता दें कि प्रकाश बजाज उस समय अचानक सुर्खियों में आ गए, जब उन्होंने राज्यसभा चुनाव के लिए निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर अपना पर्चा दाखिल किया. कहा जा रहा था कि उन्हें सपा का समर्थन हासिल था और इसी के चलते बसपा के 5 विधायकों ने पार्टी में बगावत करने के बाद सपा प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात की थी. इससे बसपा प्रत्याशी रामजी गौतम के लिए राज्यसभा की राह में रोड़ा खड़ा हो गया था.

देखें: आजतक LIVE TV

प्रकाश बजाज का पर्चा खारिज होने के बाद से बसपा के खेमे ने राहत की सांस ली होगी. लेकिन प्रकाश बजाज ने इस मसले पर हाई कोर्ट जाने की बात कही है. अगर उन्हें वहां राहत नहीं मिलती है तभी सपा और बसपा का एक-एक प्रत्याशी राज्यसभा के लिये चुना जा सकेगा. वरना फिर संख्या को लेकर मामला फंसेगा. फिलहाल, प्रकाश बजाज का पर्चा खारिज होने के बाद राज्यसभा के लिए 10 सीटों पर प्रत्याशियों का निर्विरोध चुना जाना तय है. अब आठ बीजेपी, एक सपा और एक बसपा का राज्यसभा सदस्य चुना जाना लगभग तय माना जा रहा है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें