scorecardresearch
 

'नीतीश कुमार यूपी में कहीं से चुनाव लड़ लें, कोई फर्क नहीं पड़ेगा,' बोले योगी के मंत्री आशीष पटेल

योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री आशीष पटेल का कहना था कि जनता की वजह से 2014 में केंद्र में पहली बार एनडीए की सरकार बनी और उसके बाद लगातार जनता ने पीएम मोदी की नीतियों पर मुहर लगाई है. उन्होंने कहा है कि 2024 में भी एनडीए का किसी दल या गठबंधन से कोई मुकाबला नहीं है.

X
योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री आशीष पटेल ने बयान दिया है.
योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री आशीष पटेल ने बयान दिया है.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के यूपी के प्रयागराज जिले की फूलपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की अटकलों हैं. इस बीच, यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री और अपना दल (एस) के नेता आशीष पटेल ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि नीतीश कुमार यूपी में कहीं से भी चुनाव लड़ें, उससे कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है. मंत्री पटेल ने कहा है कि 2014 से लेकर 2022 तक सभी चुनाव में जनता ने बीजेपी और उसके सहयोगी दलों को जीत दिलाई है. 

आशीष पटेल का कहना था कि जनता की वजह से 2014 में केंद्र में पहली बार एनडीए की सरकार बनी और उसके बाद लगातार जनता ने पीएम मोदी की नीतियों पर मुहर लगाई है. उन्होंने कहा है कि 2024 में भी एनडीए का किसी दल या गठबंधन से कोई मुकाबला नहीं है. 

अखिलेश और नीतीश मिल जाएं तो माहौल बदल जाएगा

बता दें कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार के प्रयागराज के फूलपुर सीट से चुनाव लड़ने की चर्चाएं हैं. इस पर जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन ललन सिंह ने बयान दिया और कहा- फूलपुर की जनता चाहती है तो हम उनका सम्मान करते हैं, लेकिन नीतीशजी लड़ेंगे या नहीं, यह उनको फैसला करना है. उन्होंने आगे ये भी कहा है कि यूपी में अखिलेश यादव और नीतीश कुमार मिल जाएं तो 2024 में माहौल बदल सकता है. 

लोकतंत्र में सबको चुनाव लड़ने का अधिकार

ललन सिंह के इस बयान पर भी आशीष पटेल ने पलटवार किया है. पटेल ने कहा कि लोकतंत्र में सबको चुनाव लड़ने का अधिकार है, लेकिन उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा से बड़ा कोई गठबंधन कभी नहीं हुआ. उसके नतीजे भी सबके सामने हैं. उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों ने बहुत सारे प्रयोग कर लिए हैं. आगे इंतजार करिए. 

रिजल्ट आएगा, तब पता चलेगा दावों में कितना दम...

वहीं, नीतीश के फूलपुर से चुनाव लड़ने की स्थिति में कमेरा समाज में सेंध लगाने के सवाल पर भी आशीष पटेल ने जवाब दिया. उन्होंने कहा कि 2022, 2019, 2017 और 2014 में जनता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अनुप्रिया पटेल की नीतियों में विश्वास व्यक्त किया है. उन्होंने दावा किया है कि 2024 का रिजल्ट जब सामने आएगा तो यह स्पष्ट हो जाएगा कि विपक्ष के दावों में कोई दम नहीं है. उन्होंने कहा है कि किसी गठबंधन और किसी नेता को वे 2024 के लिए चुनौती नहीं मानते हैं. जब लोकसभा चुनाव आएगा तो जनता के लिए जो काम करेगा, जनता उसे ही चुनाव जिताएगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें