scorecardresearch
 

आतंकी नदीम का क्या है पाकिस्तान से कनेक्शन? कुंडा कला गांव के लोगों ने खोला बड़ा राज

यूपी एटीएस ने शुक्रवार को मोहम्मद नदीम को सहारनपुर जिले के गंगोह थाना इलाके के कुंडा कला गांव से उठाया था. पूछताछ में उसने बताया कि वह पाकिस्तानी हैंडलर सैफुल्लाह के संपर्क में था. जिसने उसे नूपुर शर्मा के कत्ल का आदेश दिया गया था. 'आजतक' की टीम ने कुंडा कला गांव जाकर नदीम के बारे में लोगों से बातचीत की.

X
नदीम के माता-पिता बीमार रहते हैं
नदीम के माता-पिता बीमार रहते हैं

उत्तर प्रदेश एटीएस ने शुक्रवार को संदिग्ध आतंकवादी मोहम्मद नदीम को सहारनपुर जिले में गंगोह थाना इलाके के कुंडा कला गांव से उठाया था. जिसने पूछताछ में कई अहम राज उगले है. उसने यह भी बताया कि वह पाकिस्तानी हैंडलर सैफुल्लाह के संपर्क में था और उसे नूपुर शर्मा के कत्ल का आदेश दिया गया था. इस बीच 'आजतक' की टीम ने कुंडा कला गांव जाकर नदीम के बारे में लोगों से बातचीत की. इस दौरान गांव के लोगों ने कई अहम जानकारी दी.

कुंडा कला गांव के लोगों ने नदीम के पाकिस्तान से संबंध की जानकारी पर बताया कि नदीम के पिता की बहनों की शादी पाकिस्तान में हुई है. परिवार उनके ही संपर्क में रहा होगा. नदीम के माता-पिता मोहम्मद नफीस और ज़रीना दोनों ही बीमार रहते हैं. पड़ोसी ही दोनों की देख-रेख करते हैं. 

नदीम के गांव

गांव के मदरसे में पढ़ता था नदीम

इस दौरान गांव स्थित मदरसा इस्लामिया के प्रमुख मौलवी जमील अहमद ने बताया कि नदीम ने इसी मदरसे में पढ़ाई की, लेकिन दो साल बाद उसने आना छोड़ दिया. उसने अपनी पढ़ाई पूरी नहीं की. हम नहीं जानते कि उसने अंग्रेजी और तकनीक का ज्ञान कैसे प्राप्त किया होगा. कभी शक भी नहीं हुआ कि वह इस तरह की गतिविधियों में शामिल हो सकता है.

पाकिस्तानी हैंडलर के संपर्क में था नदीम

यूपी पुलिस के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर ने बताया कि नदीम ने सोशल मीडिया पर फेक आईडी बनाई और उसी फेक आईडी के जरिये पाकिस्तान में बैठे हैंडलर के संपर्क में था. पाकिस्तान में बैठे सैफुल्लाह ने नदीम को आईईडी बनाने से संबंधित लिटरेचर भेजा और lone wolf attack के लिए चाकू से मारने की ट्रेनिंग भी दी. नदीम पाकिस्तान और अफगानिस्तान के विभिन्न हैंडलर्स के संपर्क में था. 2018 में नदीम का संपर्क जैश-ए-मोहम्मद के सदस्य से हुआ था. इसने नदीम को पाकिस्तान और अफगानिस्तान से जोड़ा. फिर नदीम का संपर्क सैफुल्लाह से करवाया और इसके बाद उसे जिहादी साहित्य दिया गया.

ISI के इशारे पर नया मॉड्यूल बना रहा था सैफुल्लाह 

यूपी एटीएस के मुताबिक सैफुल्लाह पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI के इशारे पर यूपी-उत्तराखंड में नया मॉड्यूल बना रहा था. सैफुल्लाह ने इसकी जिम्मेदारी नदीम को दी थी. सैफुल्लाह ने नदीम को एक फेक फेसबुक मैसेंजर ID से कई वीडियो क्लिप्स भी भेजी थीं जिनके जरिये नौजवानों को रेडिक्लाइज किया जाता था. एक चैट में तो सैफुल्लाह ने नदीम को POK जाकर फिदायीन हमले और हथियार चलाने की ट्रेनिंग लेने की ट्रेनिंग के लिए भी कहा था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें