scorecardresearch
 

Shrikant Tyagi Noida: 'गालीबाज' श्रीकांत त्यागी की एक और करतूत आई सामने, बच्चों ने खोला राज

नोएडा के 'गालीबाज' नेता श्रीकांत त्यागी ने गाजियाबाद के मोदीनगर इंडस्ट्रीज के आवासों पर कब्जा कर चुनाव के समय शानदार कैंप कार्यालय बना लिया था. वह मोदीनगर से विधानसभा चुनाव लड़ना चाहता था, लेकिन टिकट न मिलने के कारण चुनाव नहीं लड़ पाया.

X
श्रीकांत त्यागी ने कब्जा कर बना लिया था कैंप कार्यालय. श्रीकांत त्यागी ने कब्जा कर बना लिया था कैंप कार्यालय.

नोएडा (Noida) के 'गालीबाज' नेता श्रीकांत त्यागी (Srikant Tyagi) की एक और करतूत उजागर हुई है. वह मोदीनगर से विधानसभा चुनाव लड़ने का मन बना चुका था, लेकिन टिकट न मिलने के कारण वह चुनाव नहीं लड़ पाया, लेकिन चुनाव के समय उसने संपत्तियों पर कब्जा जरूर कर लिया. श्रीकांत त्यागी ने गाजियाबाद के मोदीनगर के मोहन पार्क एरिया में मोदीनगर इंडस्ट्रीज के आवासों पर जबरन कब्जा कर लिया था. मोदी इंडस्ट्रीज के ये आवास केवल अपने कर्मचारियों को ही अलॉट हो सकते हैं. वहां मौजूद बच्चों ने बताया कि श्रीकांत त्यागी उनके साथ भी बुरा सलूक किया करता था.

मोदीनगर के मोहन पार्क एरिया में मोदीनगर इंडस्ट्रीज के आवासों पर कब्जा करके चुनाव के समय कैंप कार्यालय तैयार कर लिया था. श्रीकांत त्यागी ने यहां बड़ा फोटो लगाने के साथ ही कैंप कार्यालय का बोर्ड लगा दिया था. इसके अंदर शानदार ऑफिस बनाकर बीजेपी के बड़े नेताओं की तस्वीरें लगाई थीं. इसके अलावा मिट्टी डलवाकर आसपास की जगह पर भी कब्जा करने की कोशिश की.

हालांकि उसके रसूख का खौफ इतना रहा कि इलाके के बड़े लोग बात करने सामने नहीं आए. यहां आसपास मौजूद कुछ बच्चों से बात की थी तो बच्चों ने बताया कि श्रीकांत त्यागी मासूम बच्चों के साथ भी बुरा सलूक किया करता था.

बच्चों की गेंद घर की छत पर चली जाने पर उन्हें डांटता था और गेंद वापस नहीं करता था. वह बच्चों के बैट तोड़ देता था. यहां तक कि बच्चों को साइकिल चलाने से भी मना करता था.

अभी पुलिस की गिरफ्त से दूर: 

नोएडा की ग्रैंड ओमैक्स सोसायटी (Grand Omaxe Society) में महिला से गाली-गलौच करने वाला कथित नेता श्रीकांत त्यागी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. नोएडा पुलिस (Noida Police) ने गैंगस्टर की कार्रवाई कर उस पर 25 हजार इनाम भी घोषित कर दिया है. आरोपी की तलाश में नोएडा पुलिस 8 टीमें 3 राज्यों में उसकी तलाश कर रही हैं. सोमवार को सोसायटी स्थित उसके घर पर अवैध निर्माण को तोड़ा गया. वहीं आरोपी पर गिरफ्तारी का दबाव बनाने को भंगेल में उसकी दुकानों पर जीएसटी टीम ने छापेमारी भी की है. बावजूद इसके 'गालीबाज' श्रीकांत नोएडा पुलिस के बड़ी चुनौती बना हुआ है. जिसके बाद खुद को हाईटेक बताने वाली नोएडा पुलिस की कार्यशैली पर सवाल भी उठ रहे हैं.

सीएम योगी ने भी दिए आदेश

मामले के तूल पकड़ते ही खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान लेते हुए आरोपी पर सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं. बताया जा रहा कि खुद अपर मुख्य सचिव अवनीथ अवस्थी अधिकारियों से मामले की रिपोर्ट ले रहे हैं. नोए़डा पुलिस पर आरोपी को गिरफ्तार करने का पूरा दबाव है. पुलिस लगातार त्यागी के ठिकानों पर दबिश दे रही है. उसके रिश्तेदारों और दोस्तों से भी पूछताछ की गई है. पुलिस की टीमें यूपी, उत्तराखंड और हरियाणा में आरोपी को ढूंढ रही हैं. आरोपी के हरिद्वार और ऋषिकेश में छिप होने के कुछ इनपुट मिले हैं. जिसके बाद नोएडा पुलिस की टीम उत्तराखंड के लिए रवाना हो गई है. वहीं उत्तराखंड की पुलिस से भी सहयोग लिया जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें