scorecardresearch
 

Meerut: अंदर CM योगी ले रहे हैं बैठक, बाहर श्रीकांत त्यागी के समर्थन में धरना, पत्नी भी पहुंची

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मेरठ पहुंचे हैं और वहां पर मेरठ कमिश्नर ऑफिस में बैठक ले रहे हैं. इसी बीच मेरठ कमिश्नर ऑफिस के बाहर मेरठ कमिश्नरी पार्क में त्यागी बिरादरी का धरना जारी है. त्यागी बिरादरी के लोग नोएडा के गालीबाज नेता श्रीकांत त्यागी का समर्थन कर रहे हैं. इस धरने में श्रीकांत की पत्नी अनु भी पहुंच गई हैं.

X
श्रीकांत त्यागी के समर्थन में त्यागी समाज का धरना
श्रीकांत त्यागी के समर्थन में त्यागी समाज का धरना

नोएडा की ओमेक्स सोसाइटी में महिला से बदसलूकी के आरोपी श्रीकांत त्यागी के समर्थन में त्यागी समाज पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश में प्रदर्शन कर रहा है. त्यागी समाज का प्रदर्शन आज मेरठ कमिश्नरी ऑफिस में चल रहा है. इसी कमिश्नरी ऑफिस में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज पहुंचे हैं और अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे हैं.

गालीबाज नेता श्रीकांत त्यागी के समर्थन में हो रहे प्रदर्शन में शामिल होने के लिए उनकी पत्नी अनु त्यागी भी मौके पर पहुंच गई हैं. मेरठ कमिश्नर ऑफिस के बाहर मेरठ कमिश्नरी पार्क में त्यागी बिरादरी का धरना जारी है. त्यागी बिरादरी के लोग नोएडा में हुए श्रीकांत वाले मामले में मेरठ कमिश्नरी पार्क पर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं.

श्रीकांत त्यागी के समर्थन में त्यागी समाज के लोग उतर आए हैं. रविवार को नोएडा के गेझा गांव में हुई त्यागी समाज की महापंचायत में बड़ी संख्या में लोग जुटे थे. उन्होंने सांसद डॉ.महेश शर्मा पर जमकर निशाना साधा था. त्यागी समाज के लोगों ने एकजुट दिखाते हुए महापंचायत कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से कई मांग कर डाली थी.

त्यागी समाज की मांग थी कि श्रीकांत त्यागी ने जितना अपराध किया है, उसी अपराध के लिए उसके खिलाफ कार्रवाई की जाए. श्रीकांत पर लगाया गया गैंगस्टर एक्ट हटाया जाए. उसकी गाड़ियां, सामान और सभी कागजात वापस किए जाएं, त्यागी समाज के 6 लड़कों पर बिना अपराध फर्जी मुकदमा बनाकर जेल भेजा गया था. यह मुकदमा तत्काल समाप्त किया जाए.

त्यागी समाज ने मांग की कि जिन पुलिसवालों ने अनु त्यागी और श्रीकांत त्यागी की मामी के साथ अभद्रता की है, उनकी तत्काल बर्खास्तगी की जाए. त्यागी समाज महिलाओं का अपमान कतई बर्दाश्त नहीं करेगा. जिनके इशारे पर यह हुआ है, उन सभी पर कड़ी कार्रवाई की जाए. श्रीकांत त्यागी के घर का बिना अतिक्रमण वाला हिस्सा तोड़ा गया है. उसे दोबारा बनाकर दिया जाए. उसका हर्जाना भी उसके परिवार को दिलाया जाए.

त्यागी समाज ने मांग की कि श्रीकांत त्यागी प्रकरण में महिला और उसका पति षड्यंत्र रचने के दोषी हैं. इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए. उनकी गिरफ्तारी की जाए. इन लोगों ने मामूली विवाद को साजिश रखकर बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया है. जिससे पूरा त्यागी समाज अपमानित हुआ है. ओमेक्स ग्रैंड हाउसिंग सोसाइटी में अतिक्रमण के 299 मामले हैं. इन पर अब तक नोएडा अथॉरिटी ने कोई कार्रवाई नहीं की है. इन अतिक्रमण के सारे मामलों पर कार्रवाई की जाए. 


 

TOPICS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें