scorecardresearch
 

माफिया अतीक अहमद के बाद पत्नी शाइस्ता ने भी की CM योगी की तारीफ, कहा- वे बहादुर और ईमानदार सीएम हैं

बाहुबली नेता अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन ने भी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ की. शाइस्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी बहादुर और ईमानदारी सीएम हैं. उन्होंने खुला पत्र लिखकर सीएम से मिलने के लिए समय मांगा है. 20 अक्टूबर को लखनऊ पेशी पर आए अतीक ने सीएम योगी को बहादुर और ईमानदार बताया था.

X
अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन.
अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन.

बाहुबली अतीक अहमद के बाद अब उनकी पत्नी शाइस्ता परवीन ने भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ की है. शाइस्ता ने कहा कि जो मेरे पति ने कहा है, उससे मैं सहमत हूं. CM योगी बहादुर और ईमानदार मुख्यमंत्री हैं. शाइस्ता परवीन ने सीएम योगी से मुलाकात करने के लिए एक खुला पत्र भी लिखा है, जिसमें उन्होंने अपने बेटों के लिए इंसाफ की मांग की है.

बताते चलें कि इससे पहले 20 अक्टूबर को लखनऊ पेशी पर आए अतीक अहमद ने सीएम योगी को बहादुर और ईमानदार बताया था. अब अतीक की पत्नी शाइस्ता परवीन ने सीएम योगी की तारीफ कर अपने बेटों के लिए इंसाफ की गुहार लगाई है.

मेरे बेटे बेगुनाह हैं- शाइस्ता 

शाइस्ता परवीन ने अपने बच्चों को बेगुनाह बताते हुए कहा है कि बेटों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में कार्रवाई की तैयारी हो रही है. मेरे पढ़ने वाले 18 से 20 साल के बच्चे जेल जा रहे हैं. मेरा बेटा अली 18 साल का है और 12वीं पास करके यूनिवर्सिटी में लॉ के कोर्स में एडमिशन लेने जा रहा था.

शाइस्ता ने आईजी और एडीजी पर भी गंभीर आरोप लगाते हुए कहा है कि हमारे रिश्तेदारों से हमारे बेटों के खिलाफ एफआईआर कराने का दबाव बनाया जा रहा है. शाइस्ता ने अपने रिश्तेदार इमरान और जानू पर भी आरोप लगाए. शाइस्ता ने कहा कि इन लोगों ने पति अतीक अहमद के साथ कारोबार में करोड़ों रुपए कमाए. मगर, मुश्किल के दिनों में रिश्तेदार ही दुश्मन बने हुए हैं.

'प्रशासन कर रहा है एकतरफा कार्रवाई'

शाइस्ता परवीन ने कहा कि जब कोई मुकदमा दर्ज कराने जाता है, तो पुलिस के बड़े अधिकारी उस पर दबाव बनाते हैं कि अतीक अहमद के बच्चों का नाम FIR में डालो, तब मुकदमा दर्ज होगा. शाइस्ता ने सीएम योगी से मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है.

शाइस्ता ने कहा कि मेरा बेटा फर्जी मामले में जेल में बंद है. प्रशासन झूठे मुकदमे कायम करके एकतरफा कार्रवाई कर रहा है. शाइस्ता ने सीएम योगी से मुलाकात का समय मांगा है. उन्होंने पत्र के जरिए सीएम योगी से कहा है कि आप बिना भेदभाव के मुझको मिलने का टाइम दीजिए. उन्होंने कहा कि मेरे बेटे के मामले में जांच कर सही कार्रवाई की जाए, ताकि मेरे बच्चों को इंसाफ मिल सके.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें