scorecardresearch
 

आतंकी हमले के लिए वाराणसी को बेस बना रहा लश्कर, खुफिया रिपोर्ट में खुलासा

खुफिया एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, लश्कर का रिक्रूटर उमर मदनी 7 मई से लेकर 11 मई तक वाराणसी के एक मुसाफिरखाने में रुका था और उसने वहां कई लोगों से मुलाकात की थी. इस दौरान उसके साथ नेपाली मूल का एक और आतंकी मौजूद था.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

  • बड़े आतंकी हमले की तैयारी में लश्कर
  • आतंकियों के निशाने पर है वाराणसी
  • खुफिया एजेसी की रिपोर्ट में खुलासा
  • खुफिया रिपोर्ट के बाद सुरक्षा एजेंसियां सावधान

लश्कर-ए-तैयबा बड़े आतंकी हमले की साजिश रच रहा है. लश्कर इसके लिए वाराणसी को अपना बेस बनाने की कोशिश में है. खुफिया एजेंसी की रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है.

'आजतक' को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक, लश्कर के आतंकियों ने पिछले कुछ महीनों में कई बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का दौरा किया है. रिपोर्ट में कहा गया है कि लश्कर का रिक्रूटर उमर मदनी 7 मई से लेकर 11 मई तक वाराणसी के एक मुसाफिरखाने में रुका था और उसने वहां कई लोगों से मुलाकात की थी. इस दौरान उसके साथ नेपाली मूल का एक और आतंकी मौजूद था.

बताया जा रहा है कि लश्कर बड़े आतंकी हमले की साजिश रच रहा है. इस आतंकी हमले से पहले उमर मदनी पर युवाओं को लश्कर से जोड़ने की जिम्मेदारी दी गई है. रिपोर्ट सामने आने के बाद सुरक्षा एजेंसियां सावधान हो गई हैं. बनारस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चुनावी क्षेत्र है, ऐसे में इस इनपुट को खुफिया एजेंसियां काफी गंभीरता से ले रही हैं.

इससे पहले एक खुफिया रिपोर्ट में खुलासा हुआ था कि पाकिस्तान की सरकार के इशारे पर काम करने वाले आतंकवादी भारत को नुकसान पहुंचाने का प्लान बना रहे हैं. खबर है कि पाकिस्तान के मुजफ्फराबाद में बने कंट्रोल रूम '88' से जैश के आतंकियों को घुसपैठ कराई जा रही है.

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई और सेना ने भारत में आतंकी घुसपैठ कराने का जिम्मा और किसी को नहीं बल्कि जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के भाई रऊफ असगर को दिया है. रऊफ असगर जैश-ए-मोहम्मद का एक्टिंग चीफ है, जिसने भारत में आतंकी भेजने की जिम्मेदारी लॉन्चिंग कमांडर माविया खान को दी है.

एक खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तानी सेना और आईएसआई की शह पर माविया खान, अफगानिस्तान में तालिबान के साथ ट्रेनिंग लेकर घुसपैठ के लिए पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) आया है. अभी तक माविया खान, 40 से 50 फिदायीन हमलावरों तैयार कर चुका है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें