scorecardresearch
 

उत्तर प्रदेश: केशव प्रसाद मौर्य की अपील- बैंकों में भीड़ न लगाएं महिलाएं, रखें सोशल डिस्टेंसिंग

केंद्र सरकार ने गरीब महिलाओं के जनधन बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर करने का ऐलान किया था. इस ऐलान के बाद बैंकों में भीड़ लगने की आशंका के मद्देनजर उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने महिलाओं से बैंक में एक साथ न जुटने की अपील की है.

सांसद रवि किशन के साथ यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य (फाइल फोटो-PTI) सांसद रवि किशन के साथ यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य (फाइल फोटो-PTI)

  • डिप्टी सीएम बोले- बैंक में भीड़ ना लगाएं
  • खाते में ही रहेगा पैसा- केशव प्रसाद मौर्य

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन है. लॉकडाउन के चलते गरीबों के लिए रोजी-रोटी की समस्या खड़ी हो गई है. इसलिए केंद्र सरकार ने गरीब महिलाओं के जनधन बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर करने का ऐलान किया था. लेकिन इस ऐलान के बाद बैंकों में भीड़ लगने की आशंका के मद्देनजर उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने इन महिलाओं से बैंक में एक साथ न जुटने की अपील की है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट किया,' जनधन खाता धारक माताओं, बहनों आपके खाते में 500 रुपये तात्कालिक सहायता के रूप में सरकार द्वारा प्रेषित है. इसी प्रकार दो किस्त और प्राप्त होंगी, जोकि आप ही के खाते में रहेगा. पैसे वापस हो जाएंगे की अफवाह के कारण अनावश्यक बैंक में भीड़ ना लगाएं और सोशल डिस्टेंस का पालन करें.'

बता दें कि कोरोना वायरस के संकट से निपटने के लिए देश में 21 दिनों का लॉकडाउन जारी है. हालांकि गरीब वर्ग को इस लॉकडाउन के कारण आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है, जिसके बाद सरकार ने महिलाओं के जनधन बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर करने का ऐलान किया था. वहीं अब महिलाओं के खातों में पैसे आने शुरू भी हो गए हैं.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

बीते दिनों पीएम गरीब कल्याण योजना के तहत 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज का ऐलान किया गया था. इसके तहत अब सरकार 20 करोड़ महिलाओं के जनधन बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर कर रही है.

दरअसल, लॉकडाउन के बाद वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने ऐलान किया था कि हर महिला के बैंक खाते में प्रति माह 500 रुपये आएंगे. ये प्रक्रिया तीन महीने तक जारी रहेगी. जिसका मतलब ये कि तीन महीने में सरकार कुल 1500 रुपये खाते में डालेगी. कुल जनधन खातों में 53 फीसदी महिलाओं के नाम पर हैं. इस तरह से करीब 20 करोड़ महिलाओं को इसका सीधा लाभ मिलेगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें