scorecardresearch
 

UP: लखनऊ में कारोबारियों के घर Income Tax के ताबड़तोड़ छापे, 3 करोड़ कैश बरामद, कार्रवाई जारी

गोंडा में दो दिन पहले भारी मात्रा में नगदी बरामद होने के बाद आयकार विभाग को लखनऊ के कारोबारियों के हवाला से जुड़े होने के सुराग मिले थे.

X
लखनऊ के रकाबगंज में कारोबारियों के ठिकानों से 3 करोड़ नगद बरामद. (सांकेतिक तस्वीर) लखनऊ के रकाबगंज में कारोबारियों के ठिकानों से 3 करोड़ नगद बरामद. (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हवाला कारोबार पर आयकर विभाग की नजर
  • यूपी में और भी छापों की आशंका

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में चार कारोबारियों के घर रविवार रात आयकर विभाग ने छापा मारा. इस दौरान करीब 3 करोड़ रुपए नगद बरामद किए गए. छापे की यह कार्रवाई देर रात तक चलती रही. 

आयकर विभाग ने रकाबगंज इलाके में रहने वाले कारोबारी अमित अग्रवाल और नरेंद्र अग्रवाल के ठिकानों पर दबिश दी है. दरअसल, दो दिन पहले गोंडा में 65 लाख रुपए की नगदी बरामद हुई थी और इसके तार हवाला कनेक्शन से जुड़े थे. पूछताछ में सामने आया कि लखनऊ के व्यापारी इस हवाला कारोबार में शामिल हैं. इसी लीड के आधार पर इनकम टैक्स ने रकाबगंज स्थित 4 व्यापारियों के घरों पर रेड मारी. 

इस छापेमारी में एक कारोबारी के ठिकाने से 2 करोड़ 70 लाख और दूसरे के घर से 30 लाख की नकदी बरामद हुई है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की टीमें खबर लिखे जाने तक छानबीन में जुटी हुई हैं. माना जा रहा है कि IT डिपार्टमेंट हवाला कारोबार को लेकर राज्य के अलग-अलग शहरों में छापेमारी कर सकता है. 

IT की यूपी में कार्रवाई जारी

चुनावी माहौल के बीच उत्तर प्रदेश में आयकर विभाग की ताबड़तोड़ छापेमारी जारी है. आईटी टीमों में 13 जनवरी को ही हरदोई के एक तंबाकू कारोबारी के ठिकानों पर छापा मारा है और उससे पहले इत्र कोराबारी पियूष जैन के घर से भी करोड़ों बरामद किए हैं. 

गौरतलब है कि कन्नौज के इत्र कारोबारी पीयूष जैन के घर की दीवारों ने भी इतना पैसा उगला कि उसे गिनने के लिए मशीनें लगानी पड़ीं. करीब दर्जन भर मशीनें दिन रात लगीं तब जाकर जीएसटी इंटेलिजेंस की टीमें ये पैसा गिन पाईं. सूत्रों के मुताबिक इत्र कारोबारी पीयूष जैन के यहां से 196 करोड़ रुपये की नगदी मिली है. इसके अलावा 23 किलो सोना मिला है. 250 किलो चांदी मिलने की बात भी कही जा रही है.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें