scorecardresearch
 

नोएडा में नहीं चलेंगे बिना रेजिस्ट्रेशन के जिम और स्विमिंग पूल, 15 संचालकों को नोटिस

गौतमबुद्धनगर जिले में 500 से ज्यादा से स्विमिंग पूल चल रहे हैं, जिनमें से 250 ही रजिस्टर्ड हैं, जबकि जिलों में जिम की संख्या 1000 से ज्यादा है, लेकिन 55 ही ऐसे हैं जिन्होंने अपना रजिस्ट्रेशन करवा रखा है. 

X
फाइल फोटो फाइल फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गौतमबुद्ध नगर में चल रहे हैं 500 से ज्यादा स्विमिंग पूल
  • जिले में जिम की संख्या एक हजार के पार

नोएडा में बिना रजिस्ट्रेशन के चल रहे एक दर्जन से ज्यादा जिम और स्विमिंग पूल संचालकों को गौतम बुद्ध जिला प्रशासन ने नोटिस भेजा है. प्रशासन ने कहा है कि स्विमिंग पूल और जिम के पंजीकरण की जांच की जा रही है जिनके पास पंजीकरण रजिस्ट्रेशन नहीं है. उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है. 

इसी कड़ी में गौतमबुद्ध नगर जिला प्रशासन ने 10 स्विमिंग पूल और 5 जिम के संचालकों को नोटिस भेजकर आगाह किया है. प्रशासन का कहना है कि यह कदम लोगों की सुरक्षा को देखते हुए उठाया जा रहा है. हाल ही में गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने जिला स्पोर्ट्स ऑफिसर को निर्देश दिए थे कि जिन स्विमिंग पूल और जिम में रजिस्ट्रेशन नहीं हुए हैं उन पर कार्रवाई की जाए. 

जिले में चल रहे हैं 500 से ज्यादा स्विमिंग पूल 

गौरतलब है कि पूरे जिले में 500 से ज्यादा से स्विमिंग पूल चल रहे हैं, जिनमें से 250 ही रजिस्टर्ड हैं, जबकि जिलों में जिम की संख्या 1000 से ज्यादा है, लेकिन 55 ही ऐसे हैं जिन्होंने अपना रजिस्ट्रेशन करवा रखा है. 

फॉर्म हाउस की जिम भी होंगी सील 

जिला प्रशासन ने यह भी आगाह किया है कि जिन अवैध फॉर्म हाउसेस में स्विमिंग पूल और जिम चलाए जा रहे हैं. उनको भी सील कर दिया जाएगा. दरअसल स्विमिंग पूल में कई बार हादसे हो चुके हैं. यही वजह है कि अब प्रशासन सख्ती बरत रहा है और कार्रवाई की बात कर रहा है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें