scorecardresearch
 

लखीमपुर खीरी में 5 मई को किसानों का बड़ा प्रदर्शन, चार राज्यों से जुटेंगे किसान

लखीमपुर खीरी में एसयूवी गाड़ी से कुचलकर मारे गए किसानों को न्याय दिलाने के लिए यूपी समेत चार राज्यों के किसान पांच मई को पहुंचेंगे.

X
फाइल फोटो फाइल फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • लखीमपुर खीरी में होगा किसानों का प्रदर्शन
  • पंजाब से चार मई को रवाना होगा काफिला

यूपी के लखीमपुर कांड में जान गंवाने वाले किसानों को न्याय दिलाने के लिए भारतीय किसान यूनियन का एक प्रतिनिधिमंडल खीरी पहुंचेगा. चार मई को तीन और राज्यों के किसानों को लेकर किसानों का काफिला पंजाब से रवाना होगा, जो 5 मई को लखीमपुर पहुंचेगा और मारे गए किसानों के परिवारों से मुलाकात करेगा. भारतीय किसान यूनियन (पंजाब) के महासचिव हरिंदर सिंह लखोवाल ने इसकी घोषणा की है.

लखोवाल ने बताया कि भारतीय किसान यूनियन का एक प्रतिनिधिमंडल संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले लखीमपुर खीरी का दौरा करेगा. इसमें हरियाणा के अन्य किसान भी शामिल होंगे. आपको बता दें कि पिछले साल 3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी में किसानों के एक जत्थे को एक एसयूवी थार ने कुचल दिया था. इस घटना में चार किसानों की मौत हो गई थी. इस घटना के मुख्य आरोपी लखीमपुर खीरी के सांसद अजय मिश्रा टेनी के पुत्र आशीष मिश्रा हैं. किसानों को कुचलने वाली एसयूवी आशीष मिश्रा की थी. 

24 अप्रैल को आशीष मिश्रा ने किया सरेंडर
पुलिस ने मामले में आशीष मिश्रा को गिरफ्तार किया था. यूपी चुनाव के दौरान इस मामले पर काफी सियासत हुई थी. फरवरी में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मिश्रा को जमानत दे दी थी, लेकिन अप्रैल में ही सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के आदेश को खारिज करते हुए मिश्रा की जमानत रद्द कर दी थी. साथ ही केंद्रीय मंत्री आशीष मिश्रा के आरोपित बेटे को भी एक हफ्ते के अंदर सरेंडर करने को कहा गया था. 24 अप्रैल को आशीष मिश्रा ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सरेंडर किया था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें