scorecardresearch
 

दिल्ली ही नहीं NCR का भी बुरा हाल, सफेद धुंध ने शहरों पर जमाया कब्जा

सिर्फ दिल्ली ही नहीं आसपास के इलाकों में भी हालत खराब हैं. फिर चाहे वह दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के शहर हों या फिर हरियाणा के शहर, हर जगह एक जैसा ही हाल है. धुंध और सिर्फ धुंध..

दिल्ली में दम घुटता है (फोटो: PTI) दिल्ली में दम घुटता है (फोटो: PTI)

  • दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण से बुरा हाल
  • दिल्ली में फिर 500 के पार पहुंचा AQI
  • नोएडा, गुरुग्राम, गाजियाबाद में भी हवा खराब

राजधानी दिल्ली समेत उत्तर भारत में एयर क्वालिटी इंडेक्स आसमान छू रहा है. हवा ज़हरीली होती जा रही है, कुछ दिखाई नहीं दे रहा है जिसकी वजह से जनता का बुरा हाल है. एक बार फिर दिल्ली में तो AQI 500 पार कर चुका है, सिर्फ दिल्ली ही नहीं आसपास के इलाकों में भी हालत खराब हैं. फिर चाहे वह दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के शहर हों या फिर हरियाणा के शहर, हर जगह एक जैसा ही हाल है. धुंध और सिर्फ धुंध..

दिल्ली में दम घुटता है...

राजधानी दिल्ली में एक बार फिर AQI काफी बढ़ गया है, शुक्रवार को दिल्ली के कई इलाकों में आज प्रदूषण का लेवल 500 के पार है. ये आंकड़ा द्वारका में करीब 800 तो पंजाबी बाग में 777 रिकॉर्ड किया गया. राजधानी से जो तस्वीरें सामने आ रही हैं, वह भी हैरान करती हैं क्योंकि धुंध की वजह से कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा है.

नोएडा-बागपत की भी हालत खराब

दिल्ली के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के शहरों में भी बुरा हाल है. एनसीआर क्षेत्र में आने वाले नोएडा, गाजियाबाद और बागपत जैसे शहरों में AQI लेवल 600 के करीब पहुंच गया है. नोएडा सेक्टर 62 में शुक्रवार सुबह AQI लेवल 525, तो सेक्टर 125 में 630 तक पहुंच गया.

हरियाणा में कैसा है हाल?

हाईटेक सिटी गुरुग्राम को शुक्रवार सुबह धुंध की सफेद चादर ने घेर लिया. इस दौरान लोगों का घूमना, बाहर निकलना बिल्कुल मुश्किल हो गया. बता दें कि राजधानी दिल्ली में हो रहे प्रदूषण के लिए जिस पराली जलाने को जिम्मेदार माना जा रहा है, वह हरियाणा और पंजाब राज्यों में ही अधिकतर जलती है.

मास्क लगा घूम रहे लोग, बच्चों का बुरा हाल

राजधानी दिल्ली में जो लोग सुबह पार्क में टहलने निकल रहे हैं या फिर अपने कामकाज के लिए निकल रहे हैं, सभी के चेहरे पर मास्क नज़र आ रहा है. हर कोई खुद को इस जहरीली हवा से बचाना चाह रहा है. इस प्रदूषण का सबसे बुरा असर बच्चों पर पड़ रहा है, भले ही स्कूल बंद किए गए हों लेकिन जो बच्चे सड़क पर हैं, उनके लिए अभी भी काफी मुश्किल है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें