scorecardresearch
 

नोएडा में कोरोना की बढ़ी रफ्तार, पिछले 24 घंटे में 168 नए मामले, एक की मौत

नोएडा में कोरोना वायरस के 168 नए मामले सामने आए हैं. एक व्यक्ति की मौत भी हो गई. आने वाले में दिनों बरसात के कारण मरीजों की संख्या में बढ़ोत्तरी की आशंका जताई जा रही है.

X
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 24 घंटे में सामने आए 168 मामले
  • कोरोना वायरस से एक मरीज की मौत

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा में कोरोना वायरस से संक्रमण की रफ्तार बढ़ गई है. नोएडा में कोरोना के 168 नए मामले सामने आए हैं. बुधवार को एक व्यक्ति की मौत भी हो गई. हालांकि, डॉक्टरों का कहना है कि आंकड़ों से डरने की जरूरत नहीं है. लोगों को ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेशन करवाने की जरूरत है.

जानकारी के मुताबिक, नोएडा में कोरोना वायरस से संक्रमित लगातार दूसरे दिन 100 से ज्यादा मरीज मिले. पिछले एक हफ्ते में 717 नए मामले नोएडा में सामने आए. हालांकि, कई मरीज पूरी तरह ठीक हो चुके हैं. इन सबके बीच ताजे आंकड़े डरावने हैं. बीते 24 घंटे में कोरोना के 168 नए मामले आए हैं और एक मरीज की मौत हो गई. सक्रिय मरीजों की संख्या के मामले में नोएडा पहले स्थान पर है. आने वाले में दिनों बरसात के कारण मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी की आशंका है. इसी बीच स्वास्थ्य विभाग लोगों से ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेशन कराने की अपील की है.

नोएडा के सीएमओ डॉ. सुशील कुमार शर्मा से बताया कि जिले में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी हुई है. यह खास चिंता का विषय नहीं है. दिल्ली से सटे होने के कारण जनपद में आवाजाही बड़ी संख्या में होती है. ऐसे में संक्रमण के मामले नोएडा में बढ़ना लाजमी है. इन सबके बावजूद सिचुएशन कंट्रोल में है. ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेशन पर हमारा फोकस है. खासकर 12 से 14 साल के बच्चे जरूर टीके लगवाएं. नोएडा उत्तर प्रदेश में वैक्सीनेशन के मामले में नंबर एक पर है. 12 से 14 साल के बच्चे गर्मियों की छुट्टी होने के कारण वैक्सीनेशन करवाने के लिए ज्यादा संख्या में नहीं आ रहे हैं. इसलिए स्वास्थ्य विभाग ने परिजनों से अपील की है कि वे बच्चों को जल्द वैक्सीन लगवाएं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें