scorecardresearch
 

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलती बस में लगी आग, जयपुर से नेपाल जा रहे 17 यात्रियों ने कूदकर बचाई जान

इटावा में भरतिया कोठी के पास आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर चलती बस आग का गोला बन गई. बस में सवार 17 लोग धुआं उठते ही बस से उतर गए, जिससे उनकी जान बाल-बाल बची. ये सभी नेपाल के रहने वाले हैं और मजदूरी का काम करते हैं. बस जयपुर से नेपाल जा रही थी, तभी रास्ते में यह घटना हो गई.

X
जयपुर से नेपाल जा रही थी बस.
जयपुर से नेपाल जा रही थी बस.

उत्तर प्रदेश के इटावा में रविवार देर रात चलती बस में अचानक से आग लग गई. इस हादसे में 17 मजदूर बाल-बाल बचे. घटना उसराहार थाना क्षेत्र के अंतर्गत आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे की है. जानकारी के मुताबिक, बस जयपुर से नेपाल जा रही थी, तभी रास्ते में यह घटना हो गई. जैसे ही बस से धुआं निकलने लगा सभी मजदूर समय रहते बस से बाहर कूद गए और देखते ही देखते बस आग का गोला बन गई.

तुरंत पुलिस और दमकल विभाग को सूचना दी गई. मौके पर पहुंची पुलिस और फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने आग को बुझाने के कोशिश की. लेकिन तब तक बस जलकर खाक हो चुकी थी.

शॉर्ट सर्किट के कारण लगी आग
उसराहार के थानाध्यक्ष ने बताया कि राजस्थान की बस नबंर RJ 14 PE 0128 जयपुर से मजदूरों को लेकर नेपाल जा रही थी. रास्ते में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर भरतिया कोठी के पास चलती बस में आग लग गई. उन्होंने बताया कि प्रारंभिक जांच में सामने आया कि शॉर्ट सर्किट के कारण बस में आग लगी है. फिलहाल असल कारणों का पता लगाया जा रहा है.

बाल-बाल बची नेपाल के मजदूरों जान
उधर, आगजनी की घटना में बाल-बाल बचे नेपाल के मजदूरों ने बताया कि जैसे ही बस से धुआं निकलना शुरू हुआ, वे लोग गाड़ी से कूद गए. देखते ही देखते आग पूरी बस में फैल गई. पुलिस को और दमकल विभाग को सूचना दी गई. उन्होंने आग बुझाने की कोशिश की लेकिन तब तक बस जलकर खाक हो चुकी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें