scorecardresearch
 

UP में ओवैसी की एंट्री पर साक्षी महाराज बोले- पहले बिहार में मदद की, अब यहां करेंगे, खुदा उनका साथ दे

भारतीय जनता पार्टी के सांसद साक्षी महाराज ने बुधवार को एक बड़ा बयान दिया. साक्षी महाराज बोले कि ओवैसी ने बिहार में बीजेपी की मदद की और अब यूपी-बंगाल में भी ऐसा ही होगा.

बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने दिया बयान (फाइल) बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने दिया बयान (फाइल)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बीजेपी सांसद साक्षी महाराज का बयान
  • बिहार में ओवैसी ने की मदद: बीजेपी सांसद

बिहार विधानसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन के बाद AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल का रुख किया है. ओवैसी ने हाल ही में यूपी का दौरा किया, समर्थकों से मुलाकात की और पार्टी के लोगों के साथ बैठक की. इस सबके बीच भारतीय जनता पार्टी के सांसद साक्षी महाराज ने बुधवार को एक बड़ा बयान दिया. साक्षी महाराज बोले कि ओवैसी ने बिहार में बीजेपी की मदद की और अब यूपी-बंगाल में भी ऐसा ही होगा.

दरअसल, बुधवार को उन्नाव से दिल्ली जाते वक्त बीजेपी सांसद साक्षी महाराज मीडिया से मुखातिब हुए. तभी उनसे असदुद्दीन ओवैसी के आजमगढ़-जौनपुर दौरे को लेकर सवाल हुआ और उन्हें मिल रहे समर्थन की बात की गई. जिसपर टिप्पणी करते हुए साक्षी महाराज ने कहा, ‘बड़ी मेहरबानी उनको..भगवान ताकत दे…खुदा उनका साथ दे…उन्होंने बिहार में हमारा सहयोग किया था. यूपी में भी करेंगे, बाद में पश्चिम बंगाल में भी करेंगे.

बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने इस दौरान मुसलमानों को लेकर भी बयान दिया. उन्होंने कहा कि हम मुसलमानों का भी विश्वास जीतने में लगे हैं. 65 साल से हिंदुस्तान के मुसलमानों को तुष्टीकरण के आधार पर डराया गया. मुझे लगता है कि आज मुसलमानों को समझ में आ गया है वास्तव में हमारी हितैषी पार्टी भारतीय जनता पार्टी है, तो बड़ी संख्या में मुसलमान धीरे-धीरे भारतीय जनता पार्टी में जुड़ रहा है.

देखें: आजतक LIVE TV


बिहार के बाद बंगाल-यूपी में ओवैसी की दस्तक
गौरतलब है कि विपक्षी पार्टियां अक्सर असदुद्दीन ओवैसी पर आरोप लगाती रही हैं कि वो जहां भी जाते हैं, बीजेपी की मदद करते हैं. बिहार, महाराष्ट्र जैसे राज्य इन सभी का उदाहरण है. हाल ही में जब बिहार में विधानसभा चुनाव हुए तब ओवैसी की पार्टी ने सीमांचल में चुनाव लड़ा.

बिहार चुनाव में AIMIM को पांच सीटें मिली, जबकि कई सीटों पर उसके कारण महागठबंधन को हार झेलनी पड़ी. नंबरगेम को देखें तो ओवैसी की पार्टी के कारण महागठबंधन बिहार में सरकार बनाने से चूक गया. 

अब जब असदुद्दीन ओवैसी ऐलान कर चुके हैं कि वो पश्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेश का भी चुनाव लड़ेंगे, तो राजनीतिक हलचल बढ़ती जा रही है. हाल ही में बंगाल में ओवैसी ने पार्टी नेताओं के साथ बैठक की, बंगाल में मुस्लिम वोटरों की बड़ी आबादी है और साथ ही में यूपी में अगले साल होने वाले चुनाव से पहले ही ओवैसी ने यहां दस्तक दी है, ऐसे में सूबे की राजनीति गर्मा गई है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें