scorecardresearch
 

बरेली: महिला सिपाही से दोस्ती को लेकर आपस में भिड़े दो सिपाही, सीओ समेत 6 पुलिसकर्मियों पर बड़ी कार्रवाई

बरेली के बहेड़ी थाने में दो पुलिसकर्मी आपस में ही लड़ बैठे और एक ने दूसरे पर गोली चला दी. चर्चा है कि थाने में तैनात महिला सिपाही से दोस्ती के चक्कर में दो सिपाहियों के बीच मनमुटाव चल रहा था. इसी कारण पहले भी सिपाहियों के बीच झगड़ा हो चुका था.

X
बरेली के बहेड़ी थाने का मामला
बरेली के बहेड़ी थाने का मामला

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में अनुशासनहीनता पर पुलिस कप्तान को इतना गुस्सा आया कि थाना अध्यक्ष समेत 5 लोगों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया. वहीं सीओ को भी हटा दिया. इस बड़ी कार्रवाई से पूरे जिले में हड़कंप मचा हुआ है. दरअसल, बरेली के बहेड़ी थाने में दो पुलिसकर्मी आपस में ही लड़ बैठे और एक ने दूसरे पर गोली चला दी. चर्चा है कि थाने में तैनात महिला सिपाही से दोस्ती के चक्कर में दो सिपाहियों के बीच मनमुटाव चल रहा था. इसी कारण पहले भी सिपाहियों के बीच झगड़ा हो चुका था. इसी बात को लेकर बात इस कदर बढ़ गई कि एक पुलिस कर्मी ने एक दरोगा की सरकारी पिस्तौल से दूसरे सिपाही फायर कर दिया. गनीमत रही कि गोली फर्श पर लगी.  

घटना के पीछे इलाके में वसूली की रकम के बंटवारे को लेकर भी बताया जा रहा है. हकीकत और चर्चाओ के बीच इस पूरे मामले पर पुलिस ने ख़ामोशी अख्तियार की हुई है.इस पूरे मामले को थाने में पुलिस कर्मियों ने कई घंटों तक दबाकर रखा. लेकिन मंगलवार की सुबह तक मामले की चर्चा दूर-दूर तक होने लगी. वहीं जब एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज को इसकी सूचना मिलती तो को लगी तो उन्होंने तुरंत ही मामले की जांच कराई. जिसके बाद उन्होंने एसएचओ समेत 5 पुलिसकर्मियों को ससपेंड कर दिया. वहीं सीओ बहेड़ी को भी हटा दिया. बताया यह भी जा रहा है कि इस पूरे घटना की जानकारी क्षेत्र के सीओ को भी नहीं थी. इसी बात से खफा कप्तान ने सीओ पर भी कार्रवाई का चाबुक चला दिया.

बता दें कि इससे पहले भी बरेली के थाना सुभाष नगर में महिला सिपाही और महिला दरोगा के बीच आपसी विवाद का मामला सामने आया था. जिसमें एक महिला सिपाही ने महिला दरोगा पर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए पुलिस अधिकारियों से शिकायत की थी. वहीं वरुण गांधी का एक पत्र भी वायरल हुआ था. जिसमें पीलीभीत सांसद वरुण गांधी से जनप्रतिनिधियों ने बहेडी थाना प्रभारी सत्येंद्र भड़ाना की शिकायत की थी. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें