scorecardresearch
 

UP: 'अधिकारी ने मेरा फोन ब्लैक लिस्ट में डाल दिया', BJP विधायक ने की DM से शिकायत

बांदा की नरैनी विधानसभा से भाजपा की महिला विधायक ओममणि वर्मा ने अपनी ही सरकार में अधिकारियों की पोल खोल दी. MLA ओममणि वर्मा ने DM से शिकायत करते हुए कहा कि मेरे द्वारा खनिज अधिकारी दिनेश कुमार को फोन किया गया तो खनिज अधिकारी ने मेरा ही नम्बर ब्लैक लिस्ट कर दिया.

X
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ भाजपा विधायक ओममणि वर्मा (फाइल फोटो) मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ भाजपा विधायक ओममणि वर्मा (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • BJP विधायक ओममणि वर्मा की शिकायत
  • खनिज अधिकारी पर फोन ब्लैक लिस्ट करने का आरोप

उत्तर प्रदेश के बांदा में एक बैठक में जिले के भाजपा विधायकों में अपनी ही सरकार के अधिकारियों पोल खोल दी. शासन के निर्देश पर हर महीने जिले के पदाधिकारियों और विधायकों के साथ एक बैठक होती है, जिसमें जिला प्रशासन के सभी अधिकारी डीएम, एडीएम आदि मौजूद रहते हैं, जिसकी बाकायदा अध्यक्षता DM करते हैं. 

इस बैठक में नरैनी विधानसभा से भाजपा की महिला विधायक ओममणि वर्मा ने अपनी ही सरकार में अधिकारियों की पोल खोल दी. MLA ओममणि वर्मा ने DM से शिकायत करते हुए कहा कि मेरे क्षेत्र में निजी भूमि की आड़ में अवैध खनन किया जा रहा है और मेरे द्वारा खनिज अधिकारी दिनेश कुमार को फोन किया गया तो खनिज अधिकारी ने मेरा ही नम्बर ब्लैक लिस्ट कर दिया.

इस पर DM अनुराग पटेल ने खनिज अधिकारी को फटकार लगाते हुए कड़ी चेतावनी दी और भविष्य में दोबारा ऐसा न होने की हिदायत दी. साथ ही महिला विधायक ओममणि वर्मा ने यह भी कहा कि तहसीलों में दाखिल खारिज के नाम पर अवैध वसूली की जा रही है, प्रधानमंत्री आवास योजना में अवैध वसूली की जा रही है, जिस पर तत्काल कार्यवाही की जाए.

भाजपा विधायक ओममणि वर्मा ने कहा कि पंचायत भवन में रोस्टर के मुताबिक बैठने वाले के नाम और नम्बर दिवालो पर लिखवा दिए जाएं, जिससे आमजन को परेशानियां न हो. उन्होंने अपने क्षेत्र की अन्य समस्याओं के निस्तारण की मांग की है. भाजपा जिलाध्यक्ष संजय सिंह ने नाराजगी जताते हुए सुधार करने के निर्देश दिए हैं और कहा कि सरकार की छवि खराब हो रही है. 

सदर से भाजपा विधायक प्रकाश द्विवेदी ने कहा कि पिछले 6 महीने से वन विभाग को लगातार कहा जा रहा है कि निम्नीपार क्षेत्र में एक पेड़ गिर गया है, अभी तक हटवाया नहीं गया, साथ ही वृक्षारोपण कराने का निर्देश दिया था, जो पूरा नहीं हो सका. सदर विधायक ने भी प्रधानमंत्री आवास योजना में अवैध धन उगाही की शिकायत डीएम से की है.

बैठक में DM अनुराग पटेल ने विधायकों के सामने जमकर क्लास ली और उन्हें 15 दिन में कार्य पूरा करने के निर्देश दिए, डीएम अनुराग पटेल ने साफ कर दिया कि जिन अधिकारियों ने लापरवाही की उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी. उन्होंने महिला विधायक का फोन नम्बर ब्लैक लिस्ट करने वाले खनिज अधिकारी की जमकर क्लास ली.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें