scorecardresearch
 

बहराइच: बालों में लगे पिन ने बचा ली बच्ची की जान! भागे किडनैपर

स्कूल जा रही छात्रा का अपहरण करने की कोशिश हुई, जिसके बाद बालों की पिन चुभाकर छात्रा अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छूट गई. इसके बाद लड़की शोर मचाने पर लगी तो रसोइयां और बाकी बच्चे दौड़ पड़े.

घटना के बाद स्कूल में पहुंची पुलिस टीम घटना के बाद स्कूल में पहुंची पुलिस टीम
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अपहरण की कोशिश हुई नाकाम
  • बच्ची ने बालों की पिन चुभा दी

उत्तर प्रदेश के बहराइच में एक लड़की को उसके बालों में लगी पिन ने बचा लिया. दरअसल, स्कूल जा रही छात्रा का अपहरण करने की कोशिश हुई, जिसके बाद बालों की पिन चुभाकर छात्रा अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छूट गई. इसके बाद लड़की शोर मचाने पर लगी तो रसोइया और बाकी बच्चे दौड़ पड़े.

दरअसल, सोमवार की सुबह बहराइच में कक्षा चार की स्कूली छात्रा का अपहरण करने का प्रयास किया गया लेकिन छात्रा ने बहादुरी दिखाते हुए अपहर्ता के हाथ में अपने बालों की पिन चुभा दी, जिससे वो उसके चंगुल से छूट गई. इसके बाद उसके शोर मचाने पर अपहर्ता वहां से फरार हो गया.

इस संबंध में विद्यालय की प्रधानाध्यापिका ने नगर कोतवाली में तहरीर देकर बच्चों की सुरक्षा दुरुस्त किये जाने की मांग की है. वहीं सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने इस मामले पर स्थानीय लोगों से पूछताछ की बात की है, लेकिन प्रभारी इंस्पेक्टर ने इस संबंध में किसी भी प्रकार की तहरीर प्राप्त होने से इनकार किया है.

क्या है पूरा मामला

बहराइच जिले की नगर कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत स्टीलगंज तालाब स्थित प्राथमिक विद्यालय अकबरपुरा की कक्षा चार की छात्रा कविता सुबह 7.35 पर अपने घर से स्कूल जा रही थी. उसी दौरान रास्ते में कांग्रेस भवन के समीप एक अज्ञात अपहर्ता ने उसे पकड़ लिया और उसे खींच कर अपने साथ ले जाने लगा.

इस पर छात्रा ने बहादुरी दिखाते हुए अपने बालों की हेयर पिन निकाल कर उसकी कलाई में चुभो दी और शोर मचाना शुरू कर दिया. कलाई में पिन चुभने से अपहर्ता की पकड़ ढीली हो गई और शोर सुनकर वो वहां से फरार हो गया. छात्रा की आवाज पर वहां स्कूल के रसोइया समेत बच्चे व स्थानीय लोग पहुंच गए.

इस घटना से स्कूल के बच्चे डर गए. स्कूल की प्रधानाध्यापिका नीलम ने इस संबंध में नगर कोतवाल को शिकायती पत्र देकर घटना से अवगत कराया और बच्चों में बनी दहशत के दृष्टिगत पुलिस से सुरक्षात्मक कदम उठाने की मांग की है.

वहीं नगर कोतवाल हर्षवर्धन सिंह ने इस मामले में अपहरण की घटना से इनकार किया है. उनका कहना है कि किला मोहल्ले की बच्ची को रास्ते में एक पागल व्यक्ति मिला और उसे लगा कि वो उसे पकड़ने की कोशिश कर रहा है जिस पर उसने ईंट चला कर उसे मार दिया और वह भाग गया.

बच्ची ने इस बात की जानकारी स्कूल में दी थी जिस पर स्कूल के लोगों ने कहा कि इसे देख लें जिस पर पुलिस गई थी पूछताछ में बच्ची ने बताया कि ये अक्सर दिखाई पड़ता है. बाद में पुलिस ने छानबीन की लेकिन वहां कोई नही मिला न ही उस बात की किसी ने पुष्टि की.

(रिपोर्ट- राम बरन चौधरी)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें