scorecardresearch
 

अलीगढ़ः AMU में मेडिकल की छात्राओं ने उत्पीड़न के विरोध में किया प्रदर्शन

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में मेडिकल की छात्राओं ने प्रदर्शन किया. उनका आरोप था कि वह उत्पीड़न से तंग आ चुकी हैं. कई बार इस बारे में शिकायत कर चुके हैं, लेकिन अभी तक समस्या का समाधान नहीं किया गया है. वहीं कॉलेज प्रशासन का कहना है कि शिकायतों की जांच की गई है. इन मामलों में मानसिक रूप से विक्षिप्त की संलिप्तता पाई गई है.

X
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • छात्राओं ने की गेट खोलने की मांग
  • छात्राएं बोलीं- शिकायत का समाधान नहीं

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (AMU) की मेडिकल की छात्राओं ने कुलपति के आवास के बाहर धरना प्रदर्शन किया. इस दौरान मेडिकल स्टूडेंट्स ने बड़ा आरोप लगाया. हॉस्टल में उत्पीड़न की घटनाओं को लेकर छात्राएं आक्रोशित थीं. 

एजेंसी के मुताबिक अज़ीज़ुन्निसा हॉस्टल की छात्राओं ने आरोप लगाया कि पिछले तीन महीनों में कई घटनाएं हो चुकी हैं, जिसके दौरान उन्हें हॉस्टल और जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज से आते-जाते समय चेन स्नैचिंग और शारीरिक उत्पीड़न का सामना करना पड़ा.

छात्राओं का कहना है कि बार-बार शिकायत करने के बाद भी समस्या का समाधान नहीं किया जा रहा है. प्रदर्शन कर रही छात्राओं ने मांग की कि कॉलेज परिसर से जोड़ने के लिए एक गेट खोले जाने की मांग की.

AMU के डिप्टी प्रॉक्टर अली नवाज जैदी ने कहा कि छात्राओं ने दावा किया है कि उन्होंने ऐसी 20 घटनाओं का सामना किया है, लेकिन हाल ही में एक जांच की गई थी, इसमें सामने आया था कि कानून और व्यवस्था उल्लंघन के तीन मामले हुए थे.

अली नवाज जैदी ने कहा कि इन शिकायतों की जांच की गई है और पुलिस ने इन मामलों में मानसिक रूप से विक्षिप्त व्यक्ति की संलिप्तता पाई है. जैदी ने कहा कि छात्राओं ने कॉलेज परिसर में आने के लिए एक गेट खोलने की मांग की है, इसकी समीक्षा की जाएगी.

ये भी देखें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें