scorecardresearch
 

राष्ट्रपति चुनाव: क्रॉस वोटिंग करने वाले 5 सपा विधायक कौन? नाराज अखिलेश यादव कल ले सकते हैं एक्शन

राष्ट्रपति चुनाव में समाजवादी पार्टी के पांच विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की, ऐसी खबरें सामने आई हैं. इन विधायकों की तलाश में अखिलेश यादव जुट गए हैं. अखिलेश ने विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा का समर्थन किया था. लेकिन पांच विधायकों ने द्रौपदी मुर्मू को वोट किया.

X
अखिलेश यादव ने राष्ट्रपति चुनाव में यशवंत सिन्हा का समर्थन किया था
अखिलेश यादव ने राष्ट्रपति चुनाव में यशवंत सिन्हा का समर्थन किया था
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राष्ट्रपति चुनाव में क्रॉस वोटिंग से अखिलेश नाराज
  • पांच सपा विधायकों ने यशवंत की जगह मुर्मू को दिया वोट

समाजवादी पार्टी के किन पांच विधायकों ने राष्ट्रपति चुनाव में NDA उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को वोट किया? सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने उनकी तलाश शुरू कर दी है. मंगलवार को अखिलेश यादव ने सपा विधायकों की बैठक बुलाई है. इस बैठक में क्रॉस वोटिंग करने वाले विधायकों पर एक्शन हो सकता है.

राष्ट्रपति चुनाव में अखिलेश यादव ने विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा का समर्थन किया था. बावजूद इसके अखिलेश यादव अपने सिर्फ 111 विधायकों का ही समर्थन यशवंत सिन्हा के लिए जुटा पाए. अब अखिलेश उन पांच विधायकों को खोज रहे हैं, जिन्होंने चुपचाप द्रौपदी मुर्मू को समर्थन दे दिया.

नाराज हैं अखिलेश यादव

चुनाव के बाद शिवपाल यादव ने दावा किया था कि उनके कहने का असर हुआ है और पार्टी ने उनकी बात मानते हुए यशवंत सिन्हा को वोट किया था. हालांकि, कुछ विधायकों ने क्रॉस वोट किया ये बात बाद में सामने आई, जिससे अखिलेश यादव काफी नाराज हुए. कुछ विधायकों द्वारा की गई मनमानी की वजह से नाराज अखिलेश ने मंगलवार को इसपर बात करने के लिए मीटिंग बुलाई है.

इस बैठक में पार्टी के उन पांच विधायकों पर एक्शन लेने पर विचार विमर्श किया जाएगा, जिन्होंने पार्टी लाइन के खिलाफ जाकर राष्ट्रपति चुनावों में एनडीए की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को वोट दिया था.  इन विधायकों पर क्या एक्शन लिया जाए? यह पार्टी विधायकों की राय जानने के बाद तय किया जाएगा.

मंगलवार को बुलाई गई बैठक बेहद महत्वपूर्ण बताई जा रही है. इस बैठक में सपा के सभी विधायकों के साथ-साथ वरिष्ठ नेता भी शामिल होंगे.

इस मीटिंग में पार्टी को एकजुट करने के लिए रणनीति बनाने के साथ ही आगे के कार्यक्रम तय करने के मुद्दों पर चर्चा की जाएगी. इसके साथ ही बैठक में राष्ट्रपति चुनाव के दौरान क्रॉस वोटिंग करने वाले पार्टी के विधायकों के खिलाफ एक्शन लेने पर बातचीत होगी.

बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे पर अखिलेश का वार

आजतक ने आज अखिलेश यादव से बातचीत भी की. वह बोले कि बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे पर अभी भी कम चल रहा है. इसका उद्घाटन पीएम मोदी पहले ही कर चुके हैं. अभी भी वहां लाइटें लगाई जा रही हैं. अगर यहां से कोई अगर जाएगा तो कैसे दिखाई देगा. अखिलेश ने इसे रेवड़ी उद्घान कहा.

अखिलेश ने आगे कहा कि जिस प्रोजेक्ट का पीएम उद्घाटन करते हैं वह ही पूरा न हो तो ये लोगों के साथ खिलवाड़ है. ऐसी क्या जल्दी थी, डबल इंजन की सरकार है, एक्सप्रेसवे पूरा बन जाता तब उद्घाटन कर सकते थे.

अखिलेश ने आगे कहा कि दूध, दही और मक्खन पर GST लगना पहली बार हो रहा है. वह बोले कि यह कृष्ण भक्तों को बीजेपी का जन्माष्टमी से पहले गिफ्ट है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें