scorecardresearch
 

आगरा में जन्मे आलोक शर्मा ब्रिटिश कैबिनेट में बने मंत्री, बर्थडे पर मिली ये खास जिम्मेदारी

उत्तर प्रदेश के आगरा में जन्मे आलोक शर्मा ब्रिटिश कैबिनेट (British cabinet) में मंत्री बनाए गए हैं. आलोक के मंत्री बनने के बाद आगरा में रहने वाले उनके परिवार के लोगों में खुशी की लहर है. बता दें कि आलोक जब पांच साल के थे, तभी उनके पिता ब्रिटेन चले गए थे और वहीं जाकर बस गए थे.

X
आलोक शर्मा. (Photo: gov.uk)
आलोक शर्मा. (Photo: gov.uk)

उत्तर प्रदेश के आगरा में जन्मे आलोक शर्मा ब्रिटेन की संसद में मंत्री बने हैं. उनके मंत्री बनने के बाद आगरा में रहने वाले उनके पारिवारिक सदस्यों में बेहद खुशी है. बता दें कि आलोक शर्मा का जन्म 7 सितंबर 1967 को आगरा में हुआ था. बुधवार को जब कैबिनेट में शामिल होने का ऐलान हुआ, उस दिन आलोक बर्थडे भी था. आलोक शर्मा के पिता 5 भाई थे. सभी मीना बाजार मैदान के सामने बनी कोठी में रहते थे.

आलोक के पिता डॉ. प्रेम दत्त शर्मा परिवार में चौथे नंबर पर थे. आलोक शर्मा के ताऊ स्व. रमेश दत्त शर्मा उत्तर प्रदेश पुलिस में एडिशनल एसपी थे और दूसरे नंबर के ताऊ चंद्रशेखर दत्त शर्मा भारतीय फौज में कर्नल रहे. आलोक शर्मा की शुरुआती शिक्षा नॉर्मल स्कूल से हुई और उसके बाद देहरादून के सर वेलेम्स में पढ़ाई के लिए भर्ती करा दिए गए. जब आलोक 5 साल के थे, तब उनके पिता डॉ. प्रेम दत्त शर्मा ब्रिटेन चले गए और वहीं बस गए.

आगरा में जन्मे आलोक शर्मा ब्रिटिश कैबिनेट में बने मंत्री, परिवार में छाई खुशी की लहर
आगरा में रहने वाले आलोक शर्मा के कजिन.

आलोक शर्मा की जुड़वां बहन डॉ. अर्चना शर्मा लंदन में रहती हैं. आलोक के कजिन विश्वनाथ शर्मा मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय आगरा में कार्यरत हैं. जब विश्वनाथ शर्मा से आलोक के बारे में पूछा तो अतीत की यादों में डूब गए. दीवार पर टंगी घड़ी पर निगाह जमाकर धीरे से बोले कि आलोक को मिठाई बहुत पसंद है और लड्डू आलोक का प्रिय मिष्ठान है. बचपन में हम लोग साथ घूमते थे. साथ खेलते थे.

परिवार के लोग बोले- 20 दिन पहले आलोक से फोन पर हुई थी बात

विश्वनाथ शर्मा मुस्कराते हुए कहते हैं कि अभी 20 दिन पहले ही आलोक से फोन पर बात हुई थी. कुशलक्षेम पूछा था. जब भी हमारी बात होती है, वह पारिवारिक होती है. राजनीति के विषय में कोई बात नहीं होती. आलोक मानव सेवा में लगे हुए हैं और पर्यावरण पर विशेष काम करते हैं.

विश्वनाथ शर्मा ने कहा कि जब भी आलोक भारत आते हैं, ऑफिशियल विजिट पर आते हैं. परिवार के लोग कोई व्यवधान नहीं डालते. वह पिछली बार भारत आए थे तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिले थे. परिवार के लोग उनसे मिलने नहीं गए थे. हम लोगों ने कुछ समय पहले ब्रिटेन में जाकर उनसे सपरिवार मुलाकात की थी. फोन पर अक्सर हमारी बातें होती हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें