scorecardresearch
 

Weather Updates Today: बाढ़ से 5 राज्यों में हाहाकार, केरल में 52 मौतें, UP के 517 गांवों में बाढ़

Weather Forecast Updates, Delhi Rain, Kerala Flood, IMD Alert: देश के 5 राज्यों में बाढ़ से हाहाकार है. यूपी के 517 गांवों में पानी घुस गया है, वहीं 250 से ज्यादा गांवों का संपर्क अन्य इलाकों से कट गया है. बिहार और केरल में लोग लाखों लोग बाढ़ की चपेट में आ चुके हैं.

Weather Forecast Updates, Delhi Rain, Kerala Flood (तस्वीर- जहांगीर आलम) Weather Forecast Updates, Delhi Rain, Kerala Flood (तस्वीर- जहांगीर आलम)

उत्तर प्रदेश, बिहार, असम, केरल और कर्नाटक में भारी बारिश और बाढ़ से हाहाकार मची हुई है. राजस्थान के जयपुर में भी भारी बारिश से सड़क पर जल जमाव हो गया है. इधर, राजधानी दिल्ली के कुछ इलाकों में हल्की बारिश के बावजूद उसम से लोगों का हाल बेहल है. मौसम विभाग के मुताबिक आज यानी बुधवार को दिल्ली और आसपास के इलाकों में तेज बारिश हो सकती है. वहीं, मुंबई के तटीय इलाकों में 15 अगस्त तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है.

केरल में 52 की मौत, 19 लापता

केरल के इडुक्की जिले में भूस्खलन के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर मंगलवार को 52 हो गई है, वहीं असम और बिहार में बाढ़ से हालात बिगड़ने के बाद लाखों लोग प्रभावित हुए हैं. अधिकारियों के मुताबिक इडुक्की में दो पुरुषों और एक महिला का शव मलबे से बरामद हुआ है. अधिकारियों ने बताया कि राजामाला के निकट पेट्टीमुडी में एनडीआरएफ, अग्निशमन और पुलिस विभाग के कर्मी लापता 19 लोगों की तलाश के काम में जुटे हैं. ये लोग 7 अगस्त से लापता है.

धराशाई हो गया 150 साल पुराना चर्च

इस बीच, इडुक्की जिले के मुल्लापेरियार बांध में जलस्तर मंगलवार को 136.85 फुट पर पहुंच गया है. केरल में करीब 150 साल पुराना चर्च धराशायी हो गया. वहीं पूरे इलाके में पानी के सिवा कुछ नजर नहीं आ रहा है. घरों में पानी घुस चुका है. केरल के कोट्याम में भी बाढ़ ने हालात बेकाबू कर दिए हैं, जिसके बाद बोट सर्विस पर रोक लगा दी गई है. केरल के अलावा कर्नाटक में बाढ़ और भूस्खलन की घटनाओं में अब तक 16 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 4 लोग लापता हैं. राज्य में इस महीने की शुरूआत से प्रचंड बारिश हो रही है.

1_081220110536.jpg150 साल पुराना चर्च ध्वस्त

मुंबई में भारी बारिश की चेतावनी

दिल्ली में हल्की-फुल्की बारिश हुई और अत्यधिक उमस से लोग परेशान दिखे. यहां अधिकतम तापमान 36.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 2 डिग्री अधिक है. वहीं आद्रता का स्तर बढ़कर 92 प्रतिशत हो गया. आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि बुधवार को तेज बारिश होने की संभावना है. आईएमडी के अनुसार मुंबई समेत तटीय महाराष्ट्र के कुछ स्थानों पर 15 अगस्त तक भारी बारिश का अनुमान है.

बिहार में 75 लाख लोग प्रभावित

बिहार में बाढ़ से हालात खराब हो गए हैं. राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के बुलेटिन के अनुसार नए इलाकों में बाढ़ का पानी घुस गया है जिससे 16 जिलों में 62,000 और लोग प्रभावित हुए हैं. इस तरह अब तक 75 लाख से अधिक लोग बाढ़ का संकट झेल चुके हैं. राज्य में बाढ़ की घटनाओं में किसी के हताहत होने की कोई नई खबर नहीं है और मृतक संख्या 24 बनी हुई है.

bihar-vidhan-sabha_081220110611.jpgविधानसभा परिसर में भरा पानी

बिहार के विधानसभा परिसर में भरा पानी

लगातार बारिश से विधानसभा परिसर में पानी भर गया है. समस्तीपुर में बागमती खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. दरभंगा के सैंकड़ों गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है. घर डूब जाने की वजह से लोगों ने ऊंचाई वाली जगहों पर शरण ली है. सैलाब के बीच मजबूर इंसान के लिए जुगाड़ की नाव ही आने जाने का एकमात्र जरिया है.

असम में 89 गांव जलमग्न

असम में बाढ़ से एक बड़ी आबादी परेशान है. राज्य के 3 जिलों में करीब 14,000 लोग अब भी बाढ़ से जूझ रहे हैं. सर्वाधिक बुरी तरह प्रभावित धेमाजी में 12,000 से अधिक लोग पीड़ित हैं जिसके बाद बकसा में 1,000 और मोरीगांव में 800 से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं. असम में इस साल बाढ़ और भूस्खलन से अब तक 136 लोगों की जान जा चुकी है जिनमें 110 लोग बाढ़ से जुड़ी घटनाओं में मारे गए और 26 लोगों की मौत भूस्खलन में हो गई. प्राधिकरण के अनुसार इस समय 89 गांव जलमग्न हैं और पूरे राज्य में 5,984 हेक्टेयर खेतों में खड़ी फसल तबाह हो गई है.

jaipur_081220110856.jpgजयपुर में सड़कों पर भरा पानी

जयपुर में सड़कें जलमग्न

राजस्थान में पिछले 24 घंटे के दौरान पूर्वी और पश्चिमी इलाकों के कुछ भागों में मध्यम और कुछ भागों में भारी बारिश दर्ज की गई. राजधानी जयपुर के कई हिस्सों में देर शाम शुरू हुई बारिश का दौर देर रात तक जारी रहा. बारिश के बाद यहां सड़कों पर जलभराव हो गया जिससे लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा. विभाग ने आगामी 24 घंटों के दौरान भरतपुर, भीलवाडा, बूंदी, दौसा,धौलपुर, करौली, कोटा, राजसमंद, उदयपुर जिलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश का अनुमान जताया है.

यूपी के 517 गांव बाढ़ से प्रभावित

उत्तर प्रदेश के 16 जिलों में 517 गांव सैलाब से प्रभावित हैं. राहत आयुक्त संजय गोयल ने बताया कि प्रदेश में बाढ़ की स्थिति में कुछ सुधार आया है और सोमवार तक प्रदेश में जहां 19 जिले बाढ़ से प्रभावित थे वहीं अब इनकी संख्या घटकर 16 रह गई है. उन्होंने बताया कि इस वक्त प्रदेश के अंबेडकर नगर, अयोध्या, आजमगढ़, बहराइच, बलिया, बलरामपुर, बाराबंकी, बस्ती, देवरिया, गोंडा, गोरखपुर, लखीमपुर खीरी, कुशीनगर, मऊ, संत कबीर नगर और सीतापुर जिलों के 517 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं.

268 गांव का संपर्क कटा

यूपी के 268 गांवों का संपर्क बाकी स्थानों से कट गया है. पश्चिमी उत्तर प्रदेश में विभिन्न स्थानों पर भारी बारिश हुई, वहीं पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में भी मूसलाधार बारिश हुई. मौसम विभाग के अनुसार राज्य में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की गई और गरज के साथ छींटे पड़े. कई स्थानों पर बिजली भी गरजी. विभाग के अनुसार प्रदेश में बुधवार से शुक्रवार तक अनेक स्थानों पर बारिश या गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें