scorecardresearch
 

सुशांत केस पर बिहार बनाम मुंबई पुलिस, अब BMC बोली- 7 दिन की लिमिट पार

सुशांत सिंह के सुसाइड मामले में बिहार और मुंबई में केस दर्ज हुआ है, दोनों राज्यों की टीमें जांच में जुटी है. लेकिन इस दौरान मुंबई और बिहार पुलिस कई बार आमने-सामने आ चुकी हैं.

बिहार पुलिस पर BMC का निशाना (फोटो: पटना सिटी एसपी विनय तिवारी, PTI) बिहार पुलिस पर BMC का निशाना (फोटो: पटना सिटी एसपी विनय तिवारी, PTI)

  • बिहार पुलिस के दावों पर BMC का जवाब
  • नियमों का पालन नहीं कर रही टीम: BMC

मुंबई और बिहार पुलिस में सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले की जांच को लेकर आर-पार की जंग चल रही है. पटना सिटी एसपी विनय तिवारी को रविवार को एयरपोर्ट से क्वारनटीन में भेज दिया गया, जिसपर बवाल खड़ा हो गया. इस बीच सवाल उठ रहा था कि जब पिछली टीम को क्वारनटीन नहीं किया गया, तो SP को क्यों किया गया. अब बीएमसी की ओर से इसपर भी जवाब आया है, BMC का कहना है कि बिहार पुलिस की टीम नियमों का पालन नहीं कर रही है.

बीएमसी की ओर से अपनी सफाई में कहा गया कि हम बिहार पुलिस के लोगों को जानते नहीं हैं, ऐसे में उन्हें सामने आना चाहिए और नियमों का पालन करना चाहिए. बिहार पुलिस की दोनों टीमों को लेकर BMC ने कहा कि हमने नहीं बल्कि उन्होंने ही नियमों का उल्लंघन करना है.

बीएमसी का आरोप है कि जब बिहार पुलिस की दो टीमें आईं तो उन्होंने नियमों का उल्लंघन किया, हमें एयरपोर्ट पर बताय गया कि वो कुछ दिन में वापस चले जाएंगे. लेकिन अबतक सात दिनों की लिमिट पार हो चुकी है.

सुशांत केस की जांच के लिए मुंबई पहुंचे पटना SP को BMC ने किया क्वारनटीन

बता दें कि इससे पहले एसपी विनय तिवारी को क्वारनटीन में भेजने पर बीएमसी की सफाई आई थी. जिसमें उन्होंने कहा था कि वह सिर्फ केंद्र सरकार की गाइडलाइन्स का पालन कर रहे हैं, क्योंकि अफसर को सात दिन से अधिक रुकना है ऐसे में क्वारनटीन में रहना होगा. हालांकि, अगर वो बीएमसी को अप्लाई करते हैं तो टेस्ट के बाद उन्हें काम पर जाने दिया जा सकता है. BMC का कहना है कि उन्होंने इस पूरी प्रक्रिया के बारे में एसपी विनय तिवारी को बता दिया है.

इस मसले पर बिहार और महाराष्ट्र पुलिस-सरकार आमने-सामने है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का कहना है कि अफसर के साथ ठीक नहीं हुआ है, क्योंकि वो सिर्फ अपनी ड्यूटी कर रहे हैं. जबकि बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे इस मामले में महाराष्ट्र में अधिकारियों से बात करेंगे.

सुशांत केस: शेखर सुमन बोले- रिया चक्रवर्ती को बनाया जा रहा बली का बकरा

बिहार सरकार में मंत्री संजय झा का कहना है कि पहले ही बिहार पुलिस के चार लोग मुंबई में हैं, उन्हें तो क्वारनटीन नहीं किया गया. क्योंकि बड़ा अफसर आ रहा है और जांच तेज होगी, इसलिए ऐसा किया गया.

दरअसल, विनय तिवारी के आने से पहले ही बिहार पुलिस के कुछ अधिकारी मुंबई में हैं. जो लगातार सुशांत मामले में लोगों से पूछताछ कर रहे हैं, अभी तक बिहार पुलिस ने अंकिता लोखंडे के अलावा कई बॉलीवुड के लोगों और सुशांत के परिवार का बयान लिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें