scorecardresearch
 

अपनी पहचान छुपा SSB के जवान ने सुनाया अपना दर्द

जवान ने तेजबहादुर की बात का समर्थन करते हुए कहा कि जवान अपनी बात को रखने के लिए लोगों और मीडिया के सामने नहीं आ सकता क्योंकि उसे अनुशासनहीनता माना जाता है. इस जवान ने भी सच्चाई तो बताई लेकिन अपनी पहचान बचाकर.

जवान का दर्द ! जवान का दर्द !

बीएसएफ और सीआरपीएफ के जवान के वीडियो के बाद अब एसएसबी के एक जवान का दर्द भी सामने आया है. जवान ने कहा है कि जवानों को भूखे पेट भी देश की सेवा करनी पड़ती है, लेकिन सरकार को भी हमारी बात को सुनना चाहिए. उन्होंने कहा कि हमें ड्यूटी के दौरान अफसरों के बीवी-बच्चों को पालना पड़ता है, उन्होंने कहा कि गांव में लोग हमारी जमीन को हड़प रहे हैं क्योंकि पिता बुजुर्ग हैं.

जवान ने तेजबहादुर की बात का समर्थन करते हुए कहा कि जवान अपनी बात को रखने के लिए लोगों और मीडिया के सामने नहीं आ सकता क्योंकि उसे अनुशासनहीनता माना जाता है. इस जवान ने भी सच्चाई तो बताई लेकिन अपनी पहचान बचाकर. उन्होंने बताया कि उसका बूढ़ा बाप बीमार हैं, वह अस्पताल भी नहीं जा सकते. वहीं स्थानीय नेता उनकी जमीन पर कब्जा कर रहे हैं पर वह कुछ नहीं कर पा रहे हैं क्योंकि वह अभी ड्यूटी पर हैं.

गौरतलब है कि बीएसएफ जवान तेज बहादुर के चौंका देने वाले खराब खाने की शिकायती वीडियो के बाद जैसे सुरक्षाबलों में जवानों से भेदभाव को लेकर शिकायती पिटारा खुल गया है. अभी तक बीएसएफ, सीआरपीएफ और लांसनायक के जवानों की ओर से शिकायतों के वीडियो सामने आएं हैं.


आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें