scorecardresearch
 

राम मंदिरः बाइक रैली के दौरान दो गुट भिड़े, असम के सोनितपुर में लगा कर्फ्यू

जिलाधिकारी ने कहा है कि कुछ समूह प्रोटेस्ट के नाम पर हिंसा करने का प्रयास कर रहे थे. इसे देखते हुए कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए कर्फ्यू लगाया गया है.

प्रतीकात्मक तस्वीर (पीटीआई) प्रतीकात्मक तस्वीर (पीटीआई)

  • सोनितपुर जिले के दो थाना क्षेत्रों में जिलाधिकारी ने लगाया कर्फ्यू
  • प्रोटेस्ट के नाम पर हिंसा का प्रयास कर रहे थे कुछ समूहः डीएम

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन हो गया. भूमि पूजन के बाद देश भर में खुशी की लहर दौड़ गई. लोगों ने दीप जलाकर अपनी खुशी का इजहार किया, तो कहीं-कहीं बाइक रैली भी निकाली गई. असम में बाइक रैली के दौरान दो समूह भिड़ गए. यह घटना असम के सोनितपुर जिले में तेलियागांव इलाके के ढेकिआजुली टाउन के करीब हुई.

इस घटना में 14 लोग घायल हो गए, जबकि कई वाहनों को भी क्षति पहुंची है. घटना के बाद जिला प्रशासन ने दो थाना क्षेत्रों थेलामारा और ढेकिआजुली में कर्फ्यू लगा दिया है. सोनितपुर के जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह ने कर्फ्यू लागू करने की घोषणा की. अपने आदेश में जिलाधिकारी सिंह ने कहा कि कानून-व्यवस्था की गंभीर स्थिति को देखते हुए कर्फ्यू लागू करने का आदेश दिया गया है.

रामलला के सामने साष्टांग दंडवत हुए मोदी, देखें-अयोध्या में भूमिपूजन की तस्वीरें

जिलाधिकारी ने कहा है कि कुछ समूह प्रोटेस्ट के नाम पर हिंसा करने का प्रयास कर रहे थे. इसे देखते हुए कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए कर्फ्यू लगाया गया है. बताया जा रहा है कि बाइक रैली के दौरान लगाए जा रहे नारों को लेकर कुछ युवकों ने आपत्ति की, जिसके बाद विवाद बढ़ गया.

जय श्री राम नहीं, जय सियाराम से PM मोदी ने शुरू किया अयोध्या में अपना संबोधन

मौके पर हालात को काबू करने के लिए पुलिस ने कई राउंड फायरिंग की. इसके बाद भीड़ तितर-बितर हुई. इस घटना को लेकर इलाके में तनाव है. तनाव को देखते हुए इलाके में अतिरिक्त सुरक्षाबल तैनात कर दिए गए हैं. गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के अयोध्या में पीएम मोदी नेभगवान श्रीराम के भव्य मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त को भूमि पूजन किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें