scorecardresearch
 

सरकार के ऐलान पर राहुल का वार- 1.45 लाख करोड़ का सबसे महंगा इवेंट होगा ‘हाउडी मोदी’

कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने सरकार के फैसलों पर कड़ी आपत्ति जताई है. राहुल गांधी ने लिखा कि शेयर बाजार में उछाल के लिए प्रधानमंत्री कुछ भी करने को तैयार हैं, वो भी तब जब उनका #HowdyIndianEconomy का उत्सव चल रहा है.

पूर्व कांग्रेस चीफ राहुल गांधी (File Photo) पूर्व कांग्रेस चीफ राहुल गांधी (File Photo)

  • राहुल गांधी का केंद्र सरकार पर वार
  • हाउडी मोदी कार्यक्रम पर भी साधा निशाना
  • वित्त मंत्री के ऐलानों पर राहुल ने कसा तंज

केंद्र सरकार के द्वारा आर्थिक मोर्चे पर उठाए गए कदमों पर शेयर बाजार बमबम है. लेकिन कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने सरकार के फैसलों पर कड़ी आपत्ति जताई है. राहुल गांधी ने लिखा कि शेयर बाजार में उछाल के लिए प्रधानमंत्री कुछ भी करने को तैयार हैं, वो भी तब जब उनका #HowdyIndianEconomy का उत्सव चल रहा है.

राहुल गांधी ने इसी ट्वीट में अमेरिका में होने वाले हाउडी मोदी कार्यक्रम को भी आड़े हाथों ले लिया और सरकार की ओर से 1.45 लाख करोड़ के राजस्व घाटे को 'हाउडी मोदी' से जोड़ दिया. राहुल ने लिखा कि हाउडी मोदी कार्यक्रम दुनिया का सबसे महंगा इवेंट होने वाला है.

कांग्रेस नेता ने लिखा कि लेकिन कोई भी इवेंट इस सच्चाई को छुपा नहीं सकता है, जहां हाउडी मोदी जैसा कार्यक्रम भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर गया है.

एक तरफ राहुल गांधी ने इस फैसले पर सवाल उठाए हैं तो वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इन फैसलों को ऐतिहासिक करार दिया है. पीएम ने ट्वीट कर इन फैसलों के लिए वित्त मंत्री की तारीफ की.

गौरतलब है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को जो ऐलान किए हैं, उनमें कॉरपोरेट टैक्स में छूट, कैपिटेल गेन के सरचार्ज में कटौती जैसे फैसले शामिल हैं. हालांकि, इन फैसलों के बाद सरकार के राजस्व घाटे पर 1.45 लाख करोड़ रुपये का भार पड़ेगा. इसी पर राहुल गांधी ने सरकार पर निशाना साधा है.

राहुल गांधी से पहले सीपीआई (एम) नेता सीताराम येचुरी ने भी केंद्र सरकार के फैसलों को नाकाफी बताया था और इसे सबसे बड़ा घोटाला करार दिया था. सीताराम येचुरी ने सरकार पर आरबीआई से 1.76 लाख करोड़ लेकर कॉरपोरेट को 1.46 लाख करोड़ देने का आरोप है.

राहुल गांधी इससे पहले भी लगातार केंद्र सरकार पर अर्थव्यवस्था को लेकर निशाना साधते रहे हैं. साथ ही राहुल के निशाने पर प्रधानमंत्री का अमेरिका में होने वाला हाउडी मोदी कार्यक्रम भी रहा. राहुल ने अर्थव्यवस्था पर सवाल करते हुए #हाउडीइकॉनोमी हैशटेग को आगे बढ़ाया था और केंद्र सरकार को घेरा था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें