scorecardresearch
 

मायावती बोलीं- नोटबंदी से जमा कालेधन से कर्ज माफ करे सरकार

इससे पहले किसानों के कृषि कर्ज माफ करने की मांग को लेकर राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष चौ. अजित सिंह के नेतृत्व में किसानों ने जंतर-मंतर धरना भी दिया था. अजित सिंह ने कहा कि नोटबंदी से किसानों को कोई फायदा नहीं होने वाला है, किसानों का फायदा कराना ही है तो उनके कृषि कर्ज माफ किए जाना चाहिए.

विपक्ष ने की किसानों के कर्ज माफी की मांग विपक्ष ने की किसानों के कर्ज माफी की मांग

नोटबंदी के बाद से सरकार के पास आए काले धन को लेकर बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि केंद्र सरकार के पास जितना भी काला धन आया उससे किसानों का कर्ज माफ किया जाना चाहिए. वहीं कांग्रेस पार्टी ने भी सरकार से यही मांग की, कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने राज्यसभा में कहा कि देश में किसानों की हालत खराब है इसलिए नोटबंदी के बाद से आए कालेधन को कर्ज माफी में उपयोग करना चाहिए, नोटबंदी का असर देश के किसानों पर भी पड़ रहा है किसान खरीफ की फसल बेच तो रहे हैं पर उनको पैसा सही समय से नहीं मिल पा रहा है.

इससे पहले किसानों के कृषि कर्ज माफ करने की मांग को लेकर राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष चौ. अजित सिंह के नेतृत्व में किसानों ने जंतर-मंतर धरना भी दिया था. अजित सिंह ने कहा कि नोटबंदी से किसानों को कोई फायदा नहीं होने वाला है, किसानों का फायदा कराना ही है तो उनके कृषि कर्ज माफ किए जाना चाहिए.

वहीं पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने भी कहा था कि किसान विरोधी नीतियों के चलते किसान की आर्थिक हालत बिगड़ती जा रही है, फसल का लाभकारी मूल्य न मिलने के कारण वह कर्ज के बोझ से दबा जा रहा है. इसी कारण मजबूर होकर किसान आत्महत्या के लिए मजबूर है, केंद्र सरकार को किसानों के कर्जे तत्काल माफ करने चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें