scorecardresearch
 

कैसे कारगर साबित होगी नई शिक्षा नीति? कल पीएम नरेंद्र मोदी गिनाएंगे फायदे

हाल ही में लागू की गई नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के मसले पर कल पीएम नरेंद्र मोदी एक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे और संबोधन देंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (FILE) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (FILE)

  • कल पीएम मोदी का संबोधन
  • नई शिक्षा नीति पर रखेंगे विचार

देश में नई शिक्षा नीति का ऐलान किया जा चुका है. 34 साल बाद आई नई शिक्षा नीति पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को संबोधन करेंगे. पीएम का ये संबोधन शिक्षा नीति से जुड़े एक कार्यक्रम में होगा, जो कि उद्घाटन भाषण होगा.

जानकारी के मुताबिक, सात अगस्त को राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत उच्च शिक्षा में बदलाव को लेकर एक कॉन्क्लेव का आयोजन होना है. जिसको पीएम मोदी संबोधित करेंगे. इस कार्यक्रम का आयोजन शिक्षा मंत्रालय द्वारा ही कराया जा रहा है.

जिसमें नई शिक्षा नीति, भविष्य की शिक्षा, रिसर्च जैसे मसलों पर चर्चा की जाएगी. इस दौरान शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल, अन्य मंत्री और राष्ट्रीय शिक्षा नीति का ड्राफ्ट तैयार करने वाली कमेटी के सभी सदस्य मौजूद रहेंगे.

नई शिक्षा नीति: पढ़ाई, परीक्षा, रिपोर्ट कार्ड सब में होंगे ये बड़े बदलाव

बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में नई शिक्षा नीति लॉन्च की गई है, इसके तहत मानव संसाधन मंत्रालय का नाम बदलकर शिक्षा मंत्रालय कर दिया गया है. साथ ही अब ऐसे विषयों पर जोर दिया गया है, जिससे बच्चों में स्किल की क्षमता बढ़े.

हालांकि, पांचवीं क्लास तक के बच्चों को स्थानीय भाषा में पढ़ाए जाने को लेकर विवाद हुआ था. लेकिन सरकार की ओर से कहा गया कि किसी पर भी कोई भाषा नहीं थोपी जाएगी. कुछ राज्यों ने तीन भाषा सिस्टम का भी पुरजोर विरोध किया था.

साथ ही सरकार के द्वारा नए कोर्स, 10+2 में बदलाव, एमफिल को हटाना और किसी भी स्ट्रीम का होकर कोई विषय चुनने जैसे बड़े बदलाव किए गए हैं. सरकार का दावा है कि उनकी कोशिश बच्चों से पढ़ाई का बोझ हटाकर उनमें स्किल डेवलेप करना है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें