scorecardresearch
 

NRC पर ममता का केंद्र पर हमला, कहा- बंगाल में नहीं होने देंगे लागू

बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने लोगों को आश्वस्त किया कि वह पश्चिम बंगाल में  राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर यानी एनआरसी को लागू करने की इजाजत नहीं देंगी.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फाइल फोटो-ANI) पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फाइल फोटो-ANI)

  • पश्चिम बंगाल में नहीं लागू होगा राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर
  • ममता बनर्जी ने किया दावा, कहा चिंता की कोई बात नहीं

बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने लोगों को आश्वस्त किया कि वह पश्चिम बंगाल में  राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर यानी एनआरसी को लागू करने की इजाजत नहीं देंगी.

ममता बनर्जी ने बुधवार को लोगों से कहा, 'चिंता की कोई बात नहीं है. कुछ लोग आपको एनआरसी के नाम पर भड़का रहे हैं. बाहर के किसी नेता पर विश्वास न करें, उन पर भरोसा करें जो हर समय आपके साथ खड़े हैं.'

ममता बनर्जी का यह बयान गृह मंत्री अमित शाह के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने कहा कि एनआरसी पूरे देश में लागू की जाएगी.

दरअसल, शाह ने बुधवार को संसद में कहा कि एनआरसी की प्रक्रिया पूरे देशभर में शुरू की जाएगी. साथ ही उन्होंने स्पष्ट किया कि इसमें धर्म के आधार पर कोई भेदभाव नहीं होगा.

प्रश्नकाल के दौरान गृह मंत्री ने कहा, 'एनआरसी की प्रक्रिया पूरे देशभर में चलाई जाएगी. किसी भी धर्म के व्यक्ति को चिंता करनी नहीं चाहिए. यह हर किसी को एनआरसी के तहत लाने की प्रक्रिया है.'

अमित शाह ने कहा, 'सभी धर्मों के लोगों को जो भारतीय नागरिक हैं, उन्हें इसमें शामिल किया जाएगा. धर्म के आधार पर किसी तरह के भेदभाव का कोई सवाल ही नहीं है. एनआरसी एक अलग प्रक्रिया है और नागरिकता संशोधन विधेयक अलग. '

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें