scorecardresearch
 

महाराष्ट्र में सरकार बनने के आसार नहीं, कांग्रेस ने जयपुर से विधायकों को वापस बुलाया

13 नवंबर 2019, 7:38 AM IST

मगंलवार को महाराष्ट्र का राजनीतिक घटनाक्रम तेजी के साथ बदला. एक और जहां एनसीपी-कांग्रेस शिवसेना के साथ सरकार गठन पर चर्चा कर रही थी, वहीं दूसरी ओर 15 दिनों तक सरकार गठन का इंतजार कर चुके राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने राज्य की राजनीतिक हालत की रिपोर्ट केंद्र को भेजते हुए महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की सिफारिश कर दी. इस फैसले के खिलाफ शिवसेना सुप्रीम कोर्ट चली गई. सुप्रीम कोर्ट में जब तक इस मामले की सुनवाई होती तब तक राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन को मंजूरी दे दी. इधर एनसीपी-कांग्रेस ने कहा है कि उन्हें महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए और समय चाहिए.

 

 

 

 

 

5:18 AM (एक वर्ष पहले)

अस्पताल पहुंच संजय राउत से मिले एकनाथ शिंदे

Posted by :- Bikesh Tiwari
शिवसेना विधायक दल के नेता एकनाथ शिंदे देर रात लीलावती अस्पताल पहुंचे. शिंदे ने अस्पताल पहुंच कर संजय राउत से मुलाकात की. संजय राउत को 11 नवंबर के दिन सीने में दर्द की शिकायत पर लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया था.
11:01 PM (एक वर्ष पहले)

कुछ पार्टियों की वजह से लगा राष्ट्रपति शासन- बीजेपी

Posted by :- Panna Lal
महाराष्ट्र के घटनाक्रम पर महाराष्ट्र बीजेपी की कोर कमेटी की बैठक खत्म हो गई है. बैठक में बाद सीनियर नेता सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि मीटिंग में राज्य के मौजूदा हालात पर चर्चा हुई. उन्होंने कहा कि राज्य में कुछ पार्टियों की वजह से राष्ट्रपति शासन लगाया गया है. उन्होंने कहा कि राज्य में जनादेश स्पष्ट था लेकिन जिन दलों को समर्थन देना था वो ऐन मौके पर पीछे हट गईं. बीजेपी ने फैसला किया है कि हमारे लिए सत्ता में रहने से ज्यादा अहम किसानों की चिंताएं है.
10:39 PM (एक वर्ष पहले)

मिलिंद देवड़ा ने राष्ट्रपति शासन को दुर्भाग्यपूर्ण कहा

Posted by :- Panna Lal
कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा ने कहा है कि ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि भारत का दूसरा सबसे बड़ा राज्य और आर्थिक राजधानी में अब राष्ट्रपति शासन लग गया है. मतदाताओं को राजनीति और निजी दंभ की लड़ाई के अलावा कुछ और चाहिए.
10:37 PM (एक वर्ष पहले)

कांग्रेस ने अपने विधायकों को जयपुर से लौटने को कहा

Posted by :- Panna Lal
महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायकों को जयपुर से लौटने को कहा गया है. राज्य में फिलहाल सरकार गठन की संभावनाएं धुमिल दिख रही है. इस बीच कांग्रेस ने अपने 40 विधायकों को कहा है कि वे जयपुर से वापस महाराष्ट्र लौट जाएं. ये विधायक कल मुंबई आ जाएंगे. बता दें कि महाराष्ट्र कांग्रेस ने तोड़-फोड़ से बचाने के लिए अपने विधायकों को कांग्रेस शासित राजस्थान की राजधानी जयपुर के एक रिजॉर्ट में रखा है. अब ये विधायक वापस लौट रहे हैं.
10:31 PM (एक वर्ष पहले)

नीतीश राणे का ट्वीट

Posted by :- Panna Lal
9:57 PM (एक वर्ष पहले)

नारायण राणे की व्यक्तिगत राय: सुधीर मुनगंटीवार

Posted by :- Devang Gautam
बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुधीर मुनगंटीवार ने नारायण राणे के बयान को उनकी व्यक्तिगत राय करार दी. मुनगंटीवार ने स्पष्ट किया कि सरकार के गठन की जिम्मेदारी दिए जाने के संबंध में नारायण राणे का बयान उनकी व्यक्तिगत राय है.
9:25 PM (एक वर्ष पहले)

गृह मंत्रालय ने जारी की अधिसूचना

Posted by :- Panna Lal
9:21 PM (एक वर्ष पहले)

शिवसेना ने बंद किए थे दरवाजे- सुधीर मुनगंटीवार

Posted by :- Panna Lal
बीजेपी के सीनियर नेता सुधीर मुनगंटीवार से जब पूछा गया कि क्या बीजेपी के लिए शिवसेना के रास्ते बंद कर दिए गए हैं. इस पर उन्होंने कहा कि शिवसेना के लिए हमारे रास्ते हमेशा से खुले थे, लेकिन ये शिवसेना थी जिसने कहा कि दरवाजे बंद हो गए हैं.
9:07 PM (एक वर्ष पहले)

राज्य में जल्द बनेगी स्थिर सरकार: फडणवीस

Posted by :- Panna Lal
महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने राज्य में राष्ट्रपति शासन लगने पर निराशा जताई है. उन्होंने कहा कि राज्य की जनता ने स्पष्ट बहुमत दिया है. इसके बावजूद राज्य में किसी की भी पार्टी की सरकार ना बनना और राष्ट्रपति शासन लगना यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने उम्मीद जताई कि राज्य में जल्द ही एक स्थिर सरकार बनेगी. हालांकि उन्होंने ये नहीं कहा कि राज्य में किस पार्टी की सरकार बनेगी.

8:36 PM (एक वर्ष पहले)

बीजेपी की सरकार बनाएंगे-नारायण राणे

Posted by :- Panna Lal
महाराष्ट्र की राजनीति में घटनाक्रम तेजी से बदल रहा है. कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना के प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद बीजेपी नेता भी मैदान में आए. बीजेपी नेता नारायण राणे ने कहा है कि सरकार बनाने के लिए जो भी करना पड़ेगा वो करेंगे. नारायण राणे ने कहा कि शिवसेना को बेवकूफ बनाया जा रहा है, उन्हें नहीं लगता है कि कांग्रेस और एनसीपी उद्धव के साथ आएंगे. नारायण राणे ने कहा कि महाराष्ट्र में बीजेपी की सरकार बनाने के लिए उन्हें जो कुछ करना पड़ेगा वो करने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि वो जब भी राज्यपाल के साथ जाएंगे 145 विधायकों का नाम लेकर जाएंगे. पूर्व शिवसैनिक और उद्धव के प्रतिद्वंदी रहे नारायण राणे ने कहा कि शिवसेना ने ही उन्हें साम-दाम दंड भेद सिखाया है.   
8:21 PM (एक वर्ष पहले)

महबूबा के साथ किस आधार पर गई थी बीजेपी: उद्धव

Posted by :- Panna Lal
होटल रिट्रीट में शिवसेना विधायकों के साथ बात करने के बाद शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में उद्धव ठाकरे ने कहा कि हम अभी भी सरकार बना सकते हैं, हमें थोड़ा वक्त चाहिए. एनसीपी कांग्रेस से बात चल रही है. हमने राज्यपाल से सरकार बनाने की इच्छा जताई थी. राज्यपाल ने हमें समय नहीं दिया. शिवसेना को समय की जरूरत है. हमारा सरकार बनाने का दावा अभी भी कायम है. बहुमत साबित करने के लिए 24 घंटे का वक्त कम है. उन्होंने राष्ट्रपति शासन पर तंज कसते हुए कहा कि राज्यपाल महोदय इतने दयालु हैं कि हमें अब 6 महीने का वक्त दे दिया है. उद्धव ठाकरे ने कहा, "बीजेपी ने सीएम का पद हमें देने का वादा नहीं निभाया. उन्होंने यह बताने की कोशिश की कि हम झूठे हैं. हिंदुत्व हमारी आइडियोलॉजी है. राम ने अपना वादा निभाया. हम राम मंदिर चाहते हैं. वे अपना वादा नहीं निभा रहे, यह हिंदुत्व नहीं है. मैं अरविंद सावंत का धन्यवाद देता हूं. उन्होंने साबित कर दिया है कि वे एक शिवसैनिक हैं."उद्धव ठाकरे से जब हिन्दुत्व की विचारधारा से अलग होने पर सवाल किया गया तो उद्धव ठाकरे ने दो टूक कहा कि जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने के लिए बीजेपी पीडीपी के साथ किस आधार पर गई थी. उद्धव ठाकरे ने कहा कि बीजेपी नीतीश कुमार के साथ आई, चंद्रबाबू नायडू के साथ सरकार में रही, रामविलास पासवान भी साथ आए, वो ये जानना चाहते हैं कि ये नेता किस तरह से बीजेपी के साथ आए. उद्धव ने कहा कि बीजेपी के साथ जाने का विकल्प हमने खत्म नहीं किया, रिश्ता बीजेपी ने खत्म किया है, हमने बुरे समय में बीजेपी का साथ दिया था.
7:31 PM (एक वर्ष पहले)

सरकार बनाएंगे, धैर्य रखिए- उद्धव

Posted by :- Panna Lal
मलाड के होटल रिट्रीट में शिवसेना विधायकों को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि विधायकों को राष्ट्रपति शासन की चिंता नहीं करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति शासन की वजह से सरकार बनाने में कोई दिक्कत नहीं होगी. उन्होंने कहा कि उनकी कांग्रेस और एनसीपी से बात चल रही है, और उन्हें धैर्य रखना चाहिए. उद्धव ने कहा कि महाराष्ट्र की सरकार पर शिवसेना का दावा कायम है. उद्धव ने कहा कि राष्ट्रपति शासन शिवसेना को राज्य में सरकार बनाने से नहीं रोक सकता है. उद्धव ने कहा कि अगले चार से पांच दिनों में वे राज्य के अकाल प्रभावित इलाकों के दौरे पर निकलेंगे. उन्होंने कहा कि सभी विधायक धैर्य रखें, इस मुद्दे को सुलझा लिया जाएगा और जल्द ही महाराष्ट्र में शिवसेना सरकार बनाएगी.
7:14 PM (एक वर्ष पहले)

होर्स ट्रेडिंग को बढ़ावा देगा राष्ट्रपति शासन: सिब्बल

Posted by :- Panna Lal
कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा है कि महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने का मकसद होर्स ट्रेडिंग को बढ़ावा देना है. उन्होंने कहा कि ये अनैतिक कदम है. सिब्बल ने कहा कि जहां तक राज्यपाल का सवाल है वो केन्द्र के इशारे पर चलते हैं. जब ये जाहिर था कि शिवसेना बीजेपी के साथ नहीं जाना चाहती है तो 9 नवंबर तक का इंतजार क्यों किया गया? और शिवसेना एनसीपी को मात्र 24-24 घंटे का समय दिया गया.

7:07 PM (एक वर्ष पहले)

राष्ट्रपति शासन को चुनौती देगी शिवसेना

Posted by :- Panna Lal
महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाये जाने के खिलाफ कल शिवसेना दूसरी याचिका दाखिल करेगी. इस अर्जी में शिवसेना महाराष्ट्र में राष्ट्रपति लगाने के फैसले को चुनोती देगी. बता दें कि शिवसेना ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की सिफारिश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी. शिवसेना ने इस मामले में आज ही सुनवाई की मांग की थी. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने आज सुनवाई से इनकार कर दिया. सुप्रीम कोर्ट की रजिस्ट्री ने कहा कि बुधवार 10.30 बजे याचिका समुचित बेंच के आगे मेंशन करें, आज बेंच का गठन संभव नहीं है. सुप्रीम कोर्ट ने शिवसेना के वकील को कहा कि बुधवार को सुबह 10.30 बजे अपनी याचिका पर जल्द सुनवाई की मांग करें.
6:51 PM (एक वर्ष पहले)

होटल रिट्रीट में शिवसेना का मंथन

Posted by :- Panna Lal
महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने के बाद अपने विधायकों से मिलने शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे मलाड स्थित रीट्रीट होटल पहुंचे है. उनके साथ आदित्य ठाकरे, उनके छोटे बेटे तेजस ठाकरे भी होटल में मौजूद हैं. इस होटल में शिवसेना के 56 विधायकों के अलावा उनको समर्थन दे रहे 8 निर्दलीय विधायक भी मौजूद है. इस मीटिंग में शिवसेना अपने अगले कदम पर चर्चा कर रही है.
6:04 PM (एक वर्ष पहले)

निलंबित अवस्था में महाराष्ट्र की विधानसभा

Posted by :- Panna Lal
महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने के साथ ही वहां की विधानसभा निलंबित अवस्था में आ गई है. राज्य में इस वक्त 6 महीने के लिए राष्ट्रपति शासन लगा है. लेकिन अगर कोई भी पार्टी या गठबंधन पहले आंकड़ों का जुगाड़ करता है तो इसे 6 महीने से पहले भी खत्म किया जा सकता है. राज्यपाल ने अपनी अनुशंसा में कहा था कि राज्य में सरकार बनाने की कोई संवैधानिक व्यवस्था नही है इसलिए, वहां पर राष्ट्रपति शासन लगाया जाए. गवर्नर ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि 15 दिन हो गए हैं मुझे किसी दल की सरकार बनने की संभावना नही लगी. उन्होंने कहा कि उनकी ओर से राज्य में सरकार गठन के लिए पूरी कोशिशें की गईं, लेकिन ऐसी स्थिति में सरकार गठन की संभावना नजर नहीं आती है.
5:30 PM (एक वर्ष पहले)

महाराष्ट्र में लगा राष्ट्रपति शासन

Posted by :- Panna Lal
महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लग गया है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने की कैबिनेट की सिफारिश पर हस्ताक्षर कर दिया है. पंजाब के दौरे पर गए राष्ट्रपति जैसे ही दिल्ली लौटे उन्होंने गृह मंत्रालय द्वारा राष्ट्रपति शासन की भेजी गई सिफारिश पर अपनी मुहर लगा दी. इसके साथ ही महाराष्ट्र में 24 अक्टूबर से बरकरार राजनीतिक अनिश्चितता का फिलहाल पटाक्षेप हो गया है.
5:26 PM (एक वर्ष पहले)

मातोश्री से निकला शिवसेना नेताओं का काफिला

Posted by :- Panna Lal
मुंबई में मातोश्री से शिवसेना नेताओं का काफिला अभी अभी बाहर निकला है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, आदित्य ठाकरे, रामदास कदम और एकनाथ शिंदे समेत कई दूसरे नेता मातोश्री से निकले हैं. सूत्रों के मुताबिक ये नेता होटल रिट्रीट जा रहे हैं. मलाड स्थित होटल रिट्रीट में ही शिवसेना के 56 विधायक ठहरे हुए हैं. शिवसेना सुप्रीमो इन विधायकों के साथ आगे की रणनीति पर चर्चा कर सकते हैं. 
5:17 PM (एक वर्ष पहले)

मुंबई पहुंचे कांग्रेस नेता

Posted by :- Panna Lal
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, अहमद पटेल और केसी वेणुगोपाल सोनिया गांधी का संदेश लेकर मुंबई पहुंच चुके हैं. थोड़ी देर में ही ये नेता राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार से बात करेंगे. दोनों पार्टियों के बीच राज्य की मौजूदा राजनीतिक घटनाक्रम पर चर्चा होगी.
5:13 PM (एक वर्ष पहले)

पंजाब से दिल्ली लौटे राष्ट्रपति

Posted by :- Panna Lal
पंजाब के दौरे पर गए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद दिल्ली लौट आए हैं. इसी के साथ राष्ट्रपति महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की कैबिनेट की सिफारिश पर विचार कर सकते हैं. सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की सिफारिश से जुड़ी फाइल राष्ट्रपति को भेज दी है. अब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इस पर फैसला ले सकते हैं. नरेंद्र मोदी कैबिनेट ने राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश पहले ही कर दी है.