scorecardresearch
 

अभिषेक मनु सिंघवी बोले- कांग्रेस में नेतृत्व का मुद्दा जल्द सुलझ जाएगा

कांग्रेस सांसद अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि पार्टी का अध्यक्ष चुनने के लिए एक प्रक्रिया है, जो कांग्रेस वर्किंग कमेटी के माध्यम से जाती है और निकट भविष्य में इसे जल्द पूरा किया जाएगा.

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (फोटो- PTI) कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (फोटो- PTI)

  • पार्टी का अध्यक्ष चुनने के लिए एक प्रक्रिया है: अभिषेक मनु सिंघवी
  • आज खत्म हो रहा है कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी का कार्यकाल

कांग्रेस पार्टी में नेतृत्व का मुद्दा जल्द ही सुलझा लिया जाएगा. ये बयान पार्टी नेता और राज्यसभा सांसद अभिषेक मनु सिंघवी ने दिया है. उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष के रूप में तब तक रहेंगी जब तक कि नया अध्यक्ष नहीं चुना जाता है और इसपर निर्णय बहुत जल्द लिया जा सकता है.

सोनिया गांधी का कार्यकाल आज पूरा हो रहा है. अभिषेक मनु सिंघवी इसी से संबंधित सवाल का जवाब दे रहे थे. कांग्रेस के सांसद ने कहा कि पार्टी का अध्यक्ष चुनने के लिए एक प्रक्रिया है, जो कांग्रेस वर्किंग कमेटी के माध्यम से जाती है और निकट भविष्य में इसे जल्द पूरा किया जाएगा. उन्होंने कहा कि हम अपने संविधान से बंधे हैं, निर्णय किया जाएगा और जल्द ही जानकारी दी जाएगी.

ये भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश में भगवान परशुराम की मूर्ति के बहाने ब्राह्मणों को लुभाने की होड़!

अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि यह सच है कि कांग्रेस अध्यक्ष का कार्यकाल समाप्त हो रहा है. नए अध्यक्ष के चुनाव के लिए एक निर्धारित प्रक्रिया है. इस बीच, अगर कोई यह सुझाव दे रहा है कि 10 अगस्त की आधी रात को कांग्रेस नेतृत्वविहीन हो जाएगी, क्या यह संभव है? कांग्रेस सांसद ने कहा कि सोनिया गांधी पार्टी की अध्यक्ष हैं और वह तब तक इस पद पर बनी रहेंगी जब तक कि एक उचित प्रक्रिया को लागू नहीं किया जाता है.

पिछले साल लोकसभा चुनाव में हार मिलने के बाद राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था. उसके बाद से कांग्रेस पूर्णकालिक अध्यक्ष नियुक्त करने में असफल रही है.

ये भी पढ़ें- विधायक दल की बैठक में उठी मांग, पायलट खेमे की वापसी के दरवाजे बंद हों, अब लें एक्शन

शशि थरूर ने क्या कहा था

इससे पहले कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कहा कि कांग्रेस को अपनी छवि बचाने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा. उन्‍होंने कहा कि जनता के बीच पार्टी की छवि 'दिशाहीन' दल की हो चली है. इसे तोड़ने के लिए एक फुल-टाइम अध्‍यक्ष की जरूरत है. शशि थरूर ने यह भी कहा कि राहुल गांधी ने में वह 'दम और काबिलियत' है कि वह पार्टी को फिर से लीड कर सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें