scorecardresearch
 

जेएनयू हमले का मुंबई में भी विरोध, दिखा 'फ्री कश्मीर' का बैनर

aajtak.in | 06 जनवरी 2020, 8:58 PM IST

दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में एक बार फिर बड़ा बवाल हुआ है. रविवार शाम को कई नकाबपोशों ने लाठी-डंडों के साथ कैंपस में हमला किया, इस दौरान काफी छात्र घायल भी हुए. दिल्ली पुलिस ने अब इस मामले की जांच शुरू कर दी है. जेएनयू हमले के बाद देश के कई शहरों में विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गया है. जादवपुर यूनिवर्सिटी में भी छात्रों और पुलिसकर्मियों के बीच झड़प हुई, जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा.

 

8:58 PM (एक वर्ष पहले)

मुंबई: विरोध-प्रदर्शन में दिखा फ्री-कश्मीर का बैनर

Posted by :- Rachit kumar
जेएनयू हमले के खिलाफ मुंबई के गेट वे ऑफ इंडिया पर भी विरोध-प्रदर्शन हो रहा है. इस विरोध-प्रदर्शन में एक महिला 'फ्री कश्मीर' का बैनर लिए नजर आई.
8:35 PM (एक वर्ष पहले)

यूथ कांग्रेस ने इंडिया गेट पर की टॉर्च रैली

Posted by :- Rachit kumar





8:34 PM (एक वर्ष पहले)

मुंबई में विरोध-प्रदर्शन

Posted by :- Rachit kumar



8:28 PM (एक वर्ष पहले)

सावित्री बाई फुले यूनिवर्सिटी में भी विरोध-प्रदर्शन

Posted by :- Rachit kumar
जेएनयू हमले के विरोध में पुणे स्थित सावित्री बाई फुले यूनिवर्सिटी के सैकड़ों छात्र विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं. ये छात्र यूनिवर्सिटी कैंपस स्थित अनिकेत कैंटीन में जमा हुए हैं. लोकायुत संगठन और मुस्लिम संगठन के मौलानाओं के अलावा राज्यमंत्री डॉ विश्वनाथ कदम और पूर्व डीआईजी मुशरिफ भी इस प्रदर्शन में मौजूद हैं.
8:15 PM (एक वर्ष पहले)

कोलकाता में पुलिस और जादवपुर यूनिवर्सिटी के छात्रों के बीच झड़प

Posted by :- Rachit kumar
जेेएनयू हमले की आंच अब कोलकाता तक पहुंच गई है. जादवपुर यूनिवर्सिटी के छात्र कोलकाता के सुलेखा मोड़ पर जमा हुए, जहां उनकी पुलिसकर्मियों के साथ झड़प हो गई. स्थिति को काबू करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा.
7:03 PM (एक वर्ष पहले)

जेएनयू हमला मामले में ये है पुलिस की एफआईआर

Posted by :- Rachit kumar
7:03 PM (एक वर्ष पहले)

जेएनयू हमला मामले में ये है पुलिस की एफआईआर

Posted by :- Rachit kumar
6:50 PM (एक वर्ष पहले)

मुंबई में भी जेएनयू हमले को लेकर हुआ विरोध-प्रदर्शन

Posted by :- Rachit kumar
6:35 PM (एक वर्ष पहले)

जेएनयू हमले पर बोली पुलिस- क्राइम ब्रांच करेगी जांच

Posted by :- Rachit kumar
जेएनयू हमला मामले में दिल्ली पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की. दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता एमएस रंधावा ने कहा कि मामले की जांच क्राइम ब्रांच करेगी. सभी सीसीटीवी फुटेज की जांच की जा रही है. सभी 34 घायलों को अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है. रंधावा ने कहा, पुलिस पीसीआर कॉल मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची. उन्होंने कहा, जॉइंट कमिश्नर की अगुआई में एक कमिटी बनाई गई है, ताकि जांच में कोई देरी न हो. हमें कुछ सुराग मिले हैं, जिनकी जांच की जा रही है. जल्द ही मामले को सुलझा लिया जाएगा. उन्होंने कहा, दिल्ली पुलिस शाम 7.45 बजे कैंपस के अंदर गई. इस मामले में एक एफआईआर दर्ज कर ली गई है.
6:32 PM (एक वर्ष पहले)

जेएनयू में छात्रों का विरोध-प्रदर्शन जारी

Posted by :- Rachit kumar
5:19 PM (एक वर्ष पहले)

JNUSU की अध्यक्ष आइशी घोष बोलीं- पूरी प्लानिंग से किया गया हमला

Posted by :- Rachit kumar
जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आइशी घोष  ने कहा कि पिछले 4-5 दिनों से आरएसएस से जुड़े प्रोफेसर्स हमारे आंदोलन को तोड़ने के लिए हिंसा भड़का रहे थे. यह एक सुनियोजित हमला था. वे लोगों को बाहर निकाल-निकालकर हमला कर रहे थे. आइशी ने कहा कि जेएनयू सिक्योरिटी और हमलावरों के बीच साठ-गांठ थी, जिसकी वजह से उन्होंने हिंसा रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाया. हमारी मांग है कि यूनिवर्सिटी के वाइस-चांसलर को तुरंत हटाया जाए.
5:15 PM (एक वर्ष पहले)

सुप्रीम कोर्ट पहुंचा जेएनयू हिंसा का मामला

Posted by :- Rachit kumar
दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में छात्र-छात्राओं पर हमले का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. एक्टिविस्ट तहसीन पूनावाला ने दिल्ली पुलिस के खिलाफ अवमानना की याचिका दाखिल की है. तहसीन पूनावाला ने कहा कि पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट के 17.7.2018 के आदेश का उल्लंघन किया है, जो भीड़ हिंसा से निपटने से जुड़ा है.
5:01 PM (एक वर्ष पहले)

HRD मिनिस्टर बोले- शैक्षणिक संस्थाओं को राजनीतिक का अखाड़ा नहीं बनने देंगे

Posted by :- Rachit kumar
मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश निशंक पोखरियाल ने भुवनेश्वर में कहा कि जो भी जेएनयू में हुआ, वह दुर्भाग्यपूर्ण था. आज एचआरडी सेक्रेटरी ने जेएनयू के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की. शिक्षा मंत्री ने कहा कि हम यूनिवर्सिटी को राजनीतिक अड्डा नहीं बनने देंगे. दोषियों को सजा दी जाएगी.
4:43 PM (एक वर्ष पहले)

जेएनयू हमले के विरोध में उतरे जादवपुर यूनिवर्सिटी के छात्र

Posted by :- Rachit kumar



4:33 PM (एक वर्ष पहले)

स्वाति मालीवाल ने भेजा जेएनयू रजिस्ट्रार को समन

Posted by :- Rachit kumar
दिल्ली महिला आयोग (DCW) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने जेएनयू कैंपस में रविवार को महिलाओं पर हुए हमले को लेकर यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार को समन भेजा है.
4:25 PM (एक वर्ष पहले)

संजय निरुपम बोले- जेएनयू में जो हुआ वो आतंकी हमले जैसा

Posted by :- Rachit kumar
कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने कहा, जेएनयू में जो हुआ वो आतंकी हमले जैसा ही था. इस हमले में भी आरोपियों ने मुंह पर रुमाल से ढककर हाथों में हथियार लेकर स्टूडेंट और टीचर पर हमला किया.
जिस तरह छात्रों के आंदोलन हो रहे हैं और उन्हें ताकत के बल पर दबाया जा रहा है.वो देश के लिए ठीक नहीं. ऐसा ही जारी रहा तो गृह युद्ध जैसे हालात हो जाएंगे. दिल्ली में हर इंसान अपने को असुरक्षित महसूस कर रहा है. ऐसे में दिल्ली पुलिस कमिश्नर की लोगों को सुरक्षा देने उनकी जिम्मेदारी है.
4:16 PM (एक वर्ष पहले)

JNU के गेट नंबर 1 पर रोका गया टीएमसी डेलिगेशन

Posted by :- Rachit kumar
टीएमसी डेलिगेशन को जेएनयू के गेट नंबर एक पर रोका गया.इस बीच केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि जेएनयू हमले की जांच होगी और नकाबपोश हमलावर भी बेनकाब होंगे. साथ ही कांग्रेस और लेफ्ट भी.
3:01 PM (एक वर्ष पहले)

JNU के बाहर बढ़ाई गई सुरक्षा

Posted by :- Mohit Grover
छात्रों के प्रदर्शन की आशंका के चलते जेएनयू में पुलिस की सुरक्षा और बढ़ा दी गई है. महिला पुलिसकर्मियों और जवानों की भारी तैनाती की गई है. जेएनयू के चारों तरफ भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. जेएनयू के मेन गेट अंदर और बाहर दोनों तरफ से घेरकर भारी सुरक्षा तैनात की गई है.
2:23 PM (एक वर्ष पहले)

Posted by :- Mohit Grover
पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम ने जेएनयू हिंसा मामले पर कहा है कि ये हिंसा लगातार बढ़ रही अराजकता का सबूत देती है. केंद्र सरकार, गृह मंत्री, एलजी और पुलिस कमिश्नर की नाक के नीचे देश की राजधानी में इस प्रकार की घटनाएं हो रही हैं.उन्होंने कहा कि हम मांग करते हैं कि 24 घंटे के अंदर जेएनयू हिंसा के आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए.
2:19 PM (एक वर्ष पहले)

JNU हिंसाः उद्धव बोले- छात्रों पर हमला 26/11 हमले की तरह

Posted by :- Mohit Grover

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) हिंसा की तुलना 26/11 मुंबई हमले से की है. उद्धव ठाकरे ने कहा कि जो कुछ रविवार (कल) हुआ, वह कुछ ऐसा था जिसे हम 26/11 के बाद देख रहे हैं. सभी को पता होना चाहिए कि नकाब के पीछे कौन थे. आज के युवाओं को विश्वास में लेने की जरूरत है. युवा आज आत्मविश्वास खो रहा है.