scorecardresearch
 

दिल्ली में डोभाल से मिले ईरानी विदेश मंत्री, बोले- भारत निभा सकता है अहम रोल

एक कार्यक्रम में ईरान के विदेश मंत्री ने कहा कि अमेरिका के द्वारा जब हमारे जनरल सुलेमानी को मारा गया, तो भारत के कई शहरों में भी विरोध प्रदर्शन हुआ था.

अजित डोभाल से मिले ईरानी विदेश मंत्री अजित डोभाल से मिले ईरानी विदेश मंत्री

  • ईरान के विदेश मंत्री का भारत दौरा
  • NSA डोभाल से दिल्ली में मुलाकात
  • दिल्ली के एक कार्यक्रम में लिया हिस्सा

अमेरिका और ईरान के बीच बीते काफी दिनों से तनाव जारी है. ईरान विदेश मंत्री जवाद ज़रीफ अभी भारत में हैं और यहां एक कार्यक्रम में उन्होंने मौजूदा हालात पर बात की. इसके अलावा उन्होंने भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल से मुलाकात की.

एक कार्यक्रम में ईरान के विदेश मंत्री ने कहा कि अमेरिका के द्वारा जब हमारे जनरल सुलेमानी को मारा गया, तो भारत के कई शहरों में भी विरोध प्रदर्शन हुआ था. भारत के 430 शहरों में अमेरिका के खिलाफ प्रदर्शन हुआ था. लेकिन इस दौरान अमेरिका का रुख काफी खराब था, माइक पोम्पियो का ट्वीट भी उनके घमंड को दिखाता है.

ईरानी मंत्री बोले कि मुझे लगता है पिछले कुछ हफ्तों में हालात हुए है वह काफी भयावह हैं, अमेरिका जो हमारे क्षेत्र के बारे में सोच रहा है वह सही नहीं है. वो हर बात को सिर्फ अपने नजरिए से देखते हैं, लेकिन दूसरों का नजरिया नहीं देखते हैं.

ईरानी विदेश मंत्री ने कहा कि आधी रात में अमेरिका के एयरबेस पर हमला करना उसे एक संदेश देना था. हमने उन्हें साफ कर दिया था कि ये ही हमारा जवाब था, हम युद्ध नहीं चाहते हैं. भारत इस तरह के मामले में अहम रोल निभा सकता है. यूक्रेन के विमान की घटना पर उन्होंने कहा कि वह ईरान की एक गलती थी.

गौरतलब है कि अमेरिका के द्वारा ईरान के जनरल कासिम सुलेमानी को मार गिराने के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया था. अमेरिका के हमले के जवाब में ईरान ने इराक में मौजूद अमेरिका के एयरबेस पर हमला किया था, यहां मिसाइलें दागी गई थीं. जिसके बाद डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान पर कुछ नए प्रतिबंध लगा दिए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें