scorecardresearch
 

इंडिया टुडे का पूर्वानुमान- हमेशा की तरह फिर सही निशाने पर!

2013 से 2019 के बीच देश में जितने भी चुनाव हुए, 95% मामलों में इंडिया टुडे – एक्सिस माई इंडिया के एग्जिट पोल सर्वेक्षणों के अनुमान सबसे सही साबित हुए. 2013 से एक्सिस माई इंडिया ने 38 एग्जिट पोल किए जिनमें से 36 में पूर्वानुमान सही साबित हुए.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

  • एग्जिट पोल में BJP को 32 से 44 सीट मिलने का था अनुमान
  • एग्जिट पोल में 2 राज्यों के 11 करोड़ वोटरों पर सटीक अनुमान

राजनेताओं के लिए चुनावों के बारे में पहले से कुछ कहना टेढ़ी खीर हो सकता है. लेकिन उनके नतीजे क्या रहेंगे, ये सटीक अनुमान इंडिया टुडे ग्रुप पिछले कई चुनावों से लगातार करता आ रहा है.  

हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के सही नतीजों का अनुमान लगाने में जहां और सारे मीडिया संस्थान नाकाम रहे, वहीं इंडिया टुडे – एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल ने दो राज्यों के 11 करोड़ वोटरों के 'मन की बात' को लेकर सही तस्वीर पेश की.

हरियाणा

करीब करीब सारे चुनाव सर्वेक्षक और टीवी स्टेशनों ने हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व में बीजेपी की प्रचंड जीत का अनुमान पेश किया.

लेकिन हरियाणा को सटीक पूर्वानुमान सिर्फ इंडिया टुडे- एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल का ही रहा. इस एग्जिट पोल में बीजेपी को 32 से 44 सीट मिलने का अनुमान लगाया गया था. साथ ही कांग्रेस के खाते में 30 से 42 सीट जाते दिखाया था. इस एग्जिट पोल में दुष्यंत चौटाला की अगुआई वाली जननायक जनता पार्टी को 6 से 10 सीट मिलने का अनुमान जताया था.  

गुरुवार को हरियाणा विधानसभा चुनाव नतीजों की जो तस्वीर थी वो करीब करीब इंडिया टुडे- एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के पूर्वानुमान से करीब करीब मिलती थी. हरियाणा चुनाव नतीजों में बीजेपी को 40, कांग्रेस को 31 और जेजेपी को 10 सीटों पर जीत मिली.

अन्य सभी एग्जिट पोल हरियाणा के मतदाताओं की सही नब्ज़ पकड़ने में नाकाम रहे. 'रिपब्लिक- जन की बात'  ने अपने एग्जिट पोल में हरियाणा में बीजेपी को 52-63 और कांग्रेस को 15-19 मिलने का अनुमान व्यक्त किया. वहीं 'न्यूज 18 – IPSOS'  ने हरियाणा में बीजेपी को 75 और कांग्रेस को 10 सीटें जाती दिखाईं. 'एबीपी-सीवोटर' ने बीजेपी के लिए 72 और कांग्रेस को 8 सीटें मिलने का अनुमान लगाया. 'टाइम्स नाऊ' ने बीजेपी को 71 और कांग्रेस को 11 सीट मिलने की भविष्यवाणी की थी.     

महाराष्ट्र

महाराष्ट्र के असल चुनाव नतीजे भी 'इंडिया टुडे- एक्सिस माइ इंडिया' के एग्जिट पूर्वानुमान के सबसे ज़्यादा करीब रहे. इस एग्जिट पोल में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को आरामदायक बहुमत मिलता दिखाया गया था. जबकि अन्य कई एग्जिट पोल में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन की ओर से 'क्लीन स्वीप' करने का अनुमान लगाया गया था.    

इंडिया टुडे- एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को 166 से 194 सीट मिलने का पूर्वानुमान लगाया गया. इस एग्जिट पोल में एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन को 72 से 90 सीट मिलती दिखाई गईं.

असल नतीजों की बात करें तो गुरुवार आए नतीजों में 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन ने 161 सीट पर जीत हासिल की. वहीं एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन के खाते में 98 सीटें आईं.

महाराष्ट्र में अन्य एग्जिट पोल की बात की जाए तो टाइम्स नाऊ ने बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को 230 और एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन को 48 सीट मिलने का अनुमान लगाया. वहीं 'रिपब्लिक – जन की बात' ने सत्तारूढ़ गठबंधन के लिए 216—230 और एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन को 52-59 सीट मिलते दिखाया.  

'न्यूज 18-IPSOS' ने अपने एग्जिट पोल में बीजेपी-शिवसेना को 243 और एनसीपी-कांग्रेस को महज 41 सीटों पर जीत हासिल होते दिखाई. 'एबीपी-सी वोटर' ने बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को 204 और विपक्षी गठबंधन को 69 सीट मिलने का अनुमान जताया.  

इंडिया टुडे ग्रुप की वाइस चेयरपर्सन कली पुरी ने कहा, 'एग्जिट पोल का फिर सही ठहरना, वो भी सामान्य धारणा से अलग होकर, न्यूज़ चैनलों को प्रोपेगेंडा चैनलों से अलग करता है. ग्राउंड रिपोर्टिंग को लेकर नज़रिए और निष्पक्षता की वजह से ही हम डेटा को बेहतर समझ के साथ पढ़ने में समर्थ रहते हैं. हरियाणा के लिए तो ये और भी बड़ी बात है जहां कई सीटों पर अंतर बहुत कम था.

विश्वसनीय ट्रैक रिकॉर्ड

2013 से 2019 के बीच देश में जितने भी चुनाव हुए, 95% मामलों में इंडिया टुडे – एक्सिस माई इंडिया के एग्जिट पोल सर्वेक्षणों के अनुमान सबसे सही साबित हुए. 2013 से एक्सिस माई इंडिया ने 38 एग्जिट पोल किए जिनमें से 36 में पूर्वानुमान सही साबित हुए. 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान, दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के लिए इंडिया टुडे – एक्सिस माई इंडिया ने सबसे बड़ा एग्जिट पोल कराया.

इसमें बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए के लिए 339-365 सीट मिलने का अनुमान जताया गया. साथ ही विपक्षी यूपीए को 77-108 सीट मिलती दिखाईं. असल नतीजों की तस्वीर इससे अलग नहीं रही. एनडीए को असल नतीजों में 353 और यूपीए को 92 सीट पर जीत मिली. एक्सिस-माई-इंडिया के प्रमुख प्रदीप गुप्ता एक के बाद एक सफल पूर्वानुमानों के पीछे टीम भावना और मतदाताओं की नब्ज़ की वैज्ञानिक मॉनिटरिंग को श्रेय देते हैं.  

प्रदीप गुप्ता कहते हैं, 'हम अंतर्राष्ट्रीय स्तर के श्रेष्ठ तौर तरीके अपनाते हैं. हमारी मेथेडोलॉजी इस तरह की है जिसमें त्रुटि का अंतर कम से कम रहता है. इसके अलावा सैम्पलिंग को लेकर भी पूरी सतर्कता बरती जाती है जिससे कि किसी भी चुनाव में आबादी और राजनीतिक प्रतिनिधित्व के लिहाज से विस्तृत दायरे को कवर किया जा सके.' 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें