scorecardresearch
 

पीयूष गोयल बोले- जलवायु जस्टिस पर दुनिया की कमान संभालेगा भारत

पीयूष गोयल ने पर्यावरण के प्रति सरकार की प्रतिबद्धता दोहराई और कहा कि भारत सरकार शुरुआत से ही पर्यावरण संरक्षण के प्रति पूरी तरह प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि समाज की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए पर्यावरण और विकास की प्रक्रिया में संतुलन बनाए रखना बेहद जरूरी है.

रेल मंत्री पीयूष गोयल (फाइल फोटोः PTI) रेल मंत्री पीयूष गोयल (फाइल फोटोः PTI)

  • कहा- रेल नेटवर्क का होगा विद्युतीकरण
  • पर्यावरण संरक्षण के प्रति सरकार प्रतिबद्ध

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि गरीबी उन्मूलन, आतंकवाद और जलवायु जस्टिस जैसे मुद्दों पर भारत दुनिया का नेतृत्व करेगा. वह शनिवार को चंडीगढ़ में 'ग्लोबली लॉ कॉन्फ्रेंस ऑन एनवायरमेंटल लॉ : चैलेंज एंड सॉल्यूशन' विषय पर आयोजित एक सेमिनार के उद्घाटन सत्र को संबोधित कर रहे थे.

समाचार एजेंसी आईएएनएस के अनुसार गोयल ने पर्यावरण के प्रति सरकार की प्रतिबद्धता दोहराई और कहा कि भारत सरकार शुरुआत से ही पर्यावरण संरक्षण के प्रति पूरी तरह प्रतिबद्ध है. उन्होंने कहा कि समाज की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए पर्यावरण और विकास की प्रक्रिया में संतुलन बनाए रखना बेहद जरूरी है. रेल मंत्री ने कहा कि प्रकृति का सम्मान करना भारतीय परंपरा का अंग है. यह हमारी विरासत है.

उन्होंने पर्यावरण के समक्ष उत्पन्न चुनौतियों की भी चर्चा की और ई-वाहनों का उल्लेख करते हुए कहा कि इससे यह देश को एक अनूठा अवसर प्रदान करता है. इससे अरबों की विदेशी मुद्रा बचाई जा सकती है. रेल मंत्री गोयल ने सरकार की प्राथमिकताओं और वैश्विक परिदृश्य पर भी प्रकाश डाला.

अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि पूरे देश में रेल नेटवर्क का विद्युतीकरण कराया जाएगा. विद्युतीकरण का कार्य चरणबद्ध तरीके से संपन्न कराया जाएगा, जिससे यह पर्यावरण के अनुकूल बन सके.

गौरतलब है कि देश के कई शहर वायु प्रदूषण की गंभीर समस्या से जूझ रहे हैं. राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली, नोएडा जैसे कई शहरों में एक्यूआई लगातार खराब स्तर पर बना हुआ है. दिल्ली में देश का पहला ऑक्सीजन बार खुल गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें