scorecardresearch
 

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की सेहत अब भी स्थिर, वेंटिलेटर सपोर्ट पर

84 साल के प्रणब मुखर्जी को 10 अगस्त को सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उनकी मस्तिष्क की सर्जरी की गई थी. ये सर्जरी खून के एक थक्के को हटाने के लिए की गई थी.

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (फाइल फोटो-पीटीआई) पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (फाइल फोटो-पीटीआई)

  • प्रणब मुखर्जी की हालत में सुधार नहीं
  • अभी भी वेंटिलेटर पर हैं पूर्व राष्ट्रपति
  • 10 अगस्त को आर्मी अस्पताल में हुए भर्ती

देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की सेहत में आज भी कोई तब्दीली नहीं आई है. वे आज भी वेंटिलेटर पर हैं. उनका स्वास्थ्य पहले जैसा ही बना हुआ है.

दिल्ली कैंट के आर्मी रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल में भर्ती पूर्व राष्ट्रपति की सेहत पर आज भी अस्पताल ने हेल्थ बुलेटिन जारी किया है.

नाजुक बनी हुई है स्थिति

अस्पताल का कहना है कि आज सुबह भी पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की सेहत में कोई बदलाव नहीं हुआ है, वह अभी भी वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं. उनके प्रमुख पैरामीटर अभी भी स्थिर बने हुए हैं और विशेषज्ञों की एक टीम उनके सेहत की गहन निगरानी कर रही है. '

बता दें कि 84 साल के प्रणब मुखर्जी को 10 अगस्त को सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उनकी मस्तिष्क की सर्जरी की गई थी. ये सर्जरी खून के एक थक्के को हटाने के लिए की गई थी. अस्पताल में भर्ती कराने के दौरान जब उनका कोरोना टेस्ट किया गया तो वे पॉजिटिव निकले थे.

इससे पहले शुक्रवार को पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी ने बताया है कि डॉक्टरों से मिली जानकारी के मुताबिक शुक्रवार सुबह भी पूर्व राष्ट्रपति की सेहत पहले जैसी बनी हुई थी.

14 अगस्त को पूर्व राष्ट्रपति का मेडिकल बुलेटिन जारी होने के बाद उनकी बेटी ने ट्विटर पर जानकारी दी कि उनकी हालत में गिरावट नहीं आई है. उन्होंने कहा कि बीते दो दिन में मुझे जो बात समझ में आई है वह यह है कि मेरे पिता की हालत बहुत नाजुक बनी हुई है लेकिन उसमें गिरावट नहीं आई है.

अगले साल भी फहराएंगे तिरंगा- शर्मिष्ठा

आज 15 अगस्त को शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि उनके पिता हर साल तिरंगा फहराते हैं, उन्हें उम्मीद है कि वे अगले साल भी देश की आजादी पर तिरंगा फहराएंगे. बता दें कि प्रणब मुखर्जी 2012 से 2017 तक भारत के 13वें राष्ट्रपति रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें