scorecardresearch
 

दिल्ली में तापमान 2.7 डिग्री, सर्दी से राहत नहीं

राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार सुबह न्यूनतम तापमान के मौसम के सबसे निचले स्तर 2.7 डिग्री सेल्सियस पर आ जाने के कारण दिल्लीवासियों को कड़कड़ाती हुयी सर्दी का सामना करना पड़ा.

राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार सुबह न्यूनतम तापमान के मौसम के सबसे निचले स्तर 2.7 डिग्री सेल्सियस पर आ जाने के कारण दिल्लीवासियों को कड़कड़ाती हुयी सर्दी का सामना करना पड़ा.

शुक्रवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री सेल्सियस कम है और यह गुरुवार के न्यूनतम तापमान 4.4 डिग्री सेल्सियस से कम है. गुरुवार को अधिकतम तापमान 12.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था.

तड़के धुंध छाई रहने के कारण यातायात प्रभावित हुआ.

मंगलवार को न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस पर आ गया था जो इस मौसम में दूसरा सबसे कम न्यूनतम तापमान है.

बुधवार को ठंड ने 44 साल का रिकार्ड तोड़ दिया था जब यहां का अधिकतम तापमान 9.8 डिग्री सेल्सियस पर आ गया.

मौसम अधिकारियों ने अनुमान व्यक्त किया है कि कल भी इसी तरह का मौसम रहेगा और यहां का तापमान चार से लेकर 15 डिग्री सेल्सियस के बीच बना रहेगा.

देश के उत्तरी राज्यों में शीतलहर और कोहरे से राहत मिलती नहीं दिख रही. पारा अभी सामान्य से नीचे पर डेरा डाले हुए है. सर्दी और कोहरे का आम जनजीवन के साथ-साथ रेल एवं विमान सेवाओं पर भी बुरा असर देखा जा रहा है.

ठंड और कोहरे के कारण कई रेल गाड़ियां देरी से चल रही हैं और दो को निरस्त कर दी गई. सुबह दृश्यता न्यून रहने के कारण पांच विमान देरी से उड़ान भर सके.

सर्द हवाओं के कारण उत्तर प्रदेश के अधिकांश हिस्से में कड़ाके की सर्दी पड़ रही है. ठंड और कोहरे से आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित है. यहां भी रेल सेवा और उड़ानों पर कोहरे का असर पड़ा है. रेलवे अधिकारियों ने बताया 17 से अधिक रेल गाड़ियां चार से छह घंटा देरी से चल रही हैं.

राज्य में 0.6 डिग्री सेल्सियस के साथ मुजफ्फरनगर प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान रहा. कानपुर, लखनऊ, बरेली, मुरादाबाद और मेरठ शीतलहर की चपेट में हैं. मौसम विभाग के अधिकारियों ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश और राष्ट्रीय राजधानी से सटे हिस्सों में मौसम और खराब होने की चेतावनी दी है. कोहरा छाया रहेगा और दृश्यता 50 मीटर तक सिमट सकती है.

कश्मीर और लद्दाख में पारे का गिरना जारी है. मौसम विभाग ने सर्दी और बढ़ने की चेतावनी दी है. मौसम विभाग ने कहा है कि मौसम शुष्क रहने के कारण रात के तापमान में और गिरावट आएगी.

गुरुवार को श्रीनगर का तापमान शून्य से चार डिग्री सेल्सियस नीचे और राज्य के पर्यटक केंद्रों पहलगाम में शून्य से 7.8, गुलमर्ग में शून्य से नौ डिग्री और लेह में शून्य से 16 डिग्री सेल्सियस नीचे रिकार्ड किया गया.

पंजाब और हरियाणा में शीतलहर जारी है. गुरुवार को हरियाणा में नारनौल में सबसे कम 0.5 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया. चंडीगढ़ मौसम विज्ञान विभाग के अधिकारियों ने बताया कि बुधवार से कुछ स्थानों के न्यूनतम तापमान में हल्की बढ़ोत्तरी हुई है, लेकिन पूरे पंजाब और हरियाणा में कोहरे के साथ शीतलहर का दौर जारी है.

हिमाचल प्रदेश में गुरुवार को न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई और मौसम शुष्क रहा. केलांग में तापमान शून्य से 9.9 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. किन्नौर, लाहौल एवं स्पीति, कुल्लू और चम्बा जिले के जनजातीय क्षेत्रों में तापमान शून्य से 10 से 15 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया.

बिहार में राजधानी पटना सहित अधिकतर इलाकों में न्यूनतम तापमान में वृद्धि होने के बावजूद सर्द हवाओं के असर से प्रदेश में कड़ाके की ठंड से कोई राहत नहीं है. आसमान पर हल्के बादल छाए रहने से न्यूनतम तामपान में वृद्धि हुई है.

मध्य प्रदेश में उत्तर से आती ठंडी हवाओं के कारण तापमान में एक बार फिर गिरावट दर्ज की गई है. धुंध का असर बने रहने से ठंड अपना असर बनाए हुए है. राज्य में न्यूनतम तापमान तीन डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया है. तापमान में लगातार गिरावट का सिलसिला जारी है.

आसमान पर बादलों का डेरा रहने के कारण धूप से अधिक राहत नहीं मिल पा रही है. राज्य में सबसे ज्यादा ठंडे टीकमगढ़ व गुना जिले रहे, जहां गुरुवार को न्यूनतम तापमान तीन डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें