scorecardresearch
 

प्रियंका का आरोप- सत्ता में बैठे लोग कर रहे हैं संविधान को दरकिनार

प्रियंका गांधी ने कहा, पैसे और पावरतंत्र का सामना करने के लिए इस पुस्तक (संविधान) को नमन करने के साथ-साथ ये शपथ लेना जरूरी है कि हम अपने संविधान में लिखे हरेक मूल्य के साथ पूरी मजबूती से खड़े रहेंगे. जय संविधान, जय हिंद.

X
कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी की फाइल फोटो (IANS) कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी की फाइल फोटो (IANS)

  • प्रियंका ने ट्वीट किया- जय संविधान, जय हिंद
  • प्रियंका ने कहा- पैसातंत्र को बढ़ावा दिया जा रहा

कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने संविधान दिवस के मौके पर मोदी सरकार पर निशाना साधा है. प्रियंका गांधी ने ट्विटर पर लिखा, 'आज संविधान दिवस है और सत्ता में बैठे लोग संविधान के मूल्यों को दरकिनार करने और लोकतंत्र में जनता की ताकत कमजोर करके पैसातंत्र को बढ़ावा देने का प्रयास कर रहे हैं. इस पैसे और पावरतंत्र का सामना करने के लिए इस पुस्तक को नमन करने के साथ-साथ ये शपथ लेना जरूरी है कि हम अपने संविधान में लिखे हरेक मूल्य के साथ पूरी मजबूती से खड़े रहेंगे. जय संविधान, जय हिंद.'

संविधान दिवस (26 नवंबर) पर मंगलवार को संसद के दोनों सदनों का संयुक्त सत्र बुलाया गया है. संसद के सेंट्रल हॉल में आयोजित संयुक्त सत्र को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित सभी सांसद मौजूद रहे. इस मौके पर नेशनल यूथ पार्लियामेंट स्कीम का वेब पोर्टल भी लांच होगा.

70 साल पहले 26 नवंबर 1949 को भारत के संविधान को अपनाया गया था. बाद में 26 जनवरी 1950 को इसे देश में लागू किया गया. 11 अक्टूबर, 2015 को मुंबई में डॉ. आंबेडकर की प्रतिमा का शिलान्यास करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने 26 नवंबर को संविधान दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें