scorecardresearch
 

J-K के हालात पर चीन की नजर, कहा- यथास्थिति में एकतरफा बदलाव होगा अवैध

वांग ने कहा कि यथास्थिति में कोई भी एकतरफा बदलाव अवैध और अमान्य है. इस मुद्दे को संबंधित पक्षों के बीच बातचीत और परामर्श के माध्यम से शांतिपूर्ण तरीक से हल किया जाना चाहिए.

सांकेतिक तस्वीर (पीटीआई) सांकेतिक तस्वीर (पीटीआई)

  • पांच अगस्त 2019 को हटा था अनुच्छेद 370
  • कश्मीर मुद्दे पर चीन की स्थिति स्पष्ट- वांग

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने को एक साल पूरा हो चुका है. इस बीच चीन ने कहा है कि वो कश्मीर क्षेत्र की स्थिति पर नजर बनाए हुए है. साथ ही चीन का कहना है कि इस मुद्दे का संबंधित पक्षों को शांतिपूर्वक तरीके से सुलझाना चाहिए.

यह भी पढ़ें: J-K: अनुच्छेद 370 हटने की सालगिरह, गृह मंत्रालय ने कहा- विकास का एक साल

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग ने कहा, 'चीन कश्मीर क्षेत्र के हालात पर बारीकी से नजर बनाए हुए है. कश्मीर मुद्दे पर चीन की स्थिति स्पष्ट और सुसंगत है. यह संयुक्त राष्ट्र चार्टर, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों और पाकिस्तान-भारत के बीच द्विपक्षीय समझौतों द्वारा निर्धारित एक उद्देश्यपूर्ण तथ्य है.'

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान के नए नक्शे पर बोला भारत- ऐसे दावे हास्यास्पद, इनकी कोई कानूनी वैधता नहीं

वांग ने कहा कि यथास्थिति में कोई भी एकतरफा बदलाव अवैध और अमान्य है. इस मुद्दे को संबंधित पक्षों के बीच बातचीत और परामर्श के माध्यम से शांतिपूर्वक तरीक से हल किया जाना चाहिए. यह मुद्दा पाकिस्तान और भारत के बीच इतिहास से जुड़ा विवाद है.

एक साल पूरा

बता दें कि जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाला संविधान का अनुच्छेद 370 साल 2019 में पांच अगस्त को हटाया गया था. साल 2019 में पांच अगस्त को ही गृहमंत्री अमित शाह ने संसद में अनुच्छेद 370 हटाने का संकल्प पेश किया था. इसे अब एक साल हो चुका है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें