scorecardresearch
 

इलेक्शन मोड में येदियुरप्पा, अयोग्य ठहराए गए विधायकों के साथ की बैठक

कर्नाटक में उपचुनाव की घोषणा होते ही मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने अयोग्य ठहराए गए विधायकों के साथ बैठक की है. बैठक में चुनाव की रणनीति पर चर्चा किए जाने की खबर है.

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (IANS) कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (IANS)

कर्नाटक में विधानसभा उपचुनाव का ऐलान हो चुका है. इसके बाद राजनीतिक पार्टियां ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है. इस बीच मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने अयोग्य ठहराए गए विधायकों के साथ बैठक की है. बैठक में चुनाव की रणनीति पर चर्चा किए जाने की खबर है. दूसरी तरफ अयोग्य ठहराए गए विधायक सुप्रीम कोर्ट जा सकते हैं और मांग कर सकते हैं कि उनके विधानसभा क्षेत्रों में अभी उपचुनाव न कराए जाएं.

जुलाई महीने में कांग्रेस ने कर्नाटक के 14 बागी विधायकों को पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण निष्कसित कर दिया था. इन विधायकों को कर्नाटक विधानसभा के तत्कालीन अध्यक्ष के.आर. रमेश ने अयोग्य ठहराया था. निष्कासित विधायकों में प्रताप गौड़ा पाटील, बी.सी. पाटील, शिवराम हेब्बर, एस.टी. सोमशेखर, बिराती बसवराज, आनंद सिंह, आर. रोशन बेग, मुनिरत्ना, के. सुधाकर, एम.टी.बी. नागराज, श्रीमंत पाटील, रमेश जरकीहोली, महेश कुमाताहल्ली और आर. शंकर शामिल हैं.

चुनाव आयोग ने शनिवार को घोषित किया कि 17 राज्यों की 64 विधानसभा सीटों और एक केंद्र शासित प्रदेश में उपचुनाव 21 अक्टूबर को होंगे और 24 अक्टूबर को नतीजे घोषित किए जाएंगे. आयोग ने कर्नाटक में 15 सीटों, उत्तर प्रदेश में 11 सीटों, केरल और बिहार में पांच-पांच सीटों, गुजरात, असम और पंजाब में चार-चार सीटों, सिक्किम में तीन सीटों, हिमाचल प्रदेश, तमिलनाडु और राजस्थान में दो-दो सीटों और अरुणाचल प्रदेश, तेलंगाना, मध्य प्रदेश, मेघालय, ओडिशा और पुडुचेरी में एक-एक सीट के लिए विधानसभा उपचुनाव की घोषणा की.(इनपुट एजेंसी से)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें