scorecardresearch
 

BSIV वाहन पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, ये खरीदार करा सकेंगे रजिस्ट्रेशन

मार्च में BS IV वाहन खरीदने वाले लोगों को सुप्रीम कोर्ट ने शर्त के साथ राहत दी है.

सुप्रीम कोर्ट ने राहत दी सुप्रीम कोर्ट ने राहत दी

  • BSIV वाहन खरीदने वाले लोगों को सुप्रीम कोर्ट ने राहत दी
  • मार्च के बाद बेचे गए BSIV वाहनों का पंजीकरण नहीं होगा

मार्च में BS-IV वाहन खरीदने वाले लोगों को सुप्रीम कोर्ट ने राहत दी है. दरअसल, जिन लोगों ने लॉकडाउन के कारण 31 मार्च की समयसीमा से पहले BS-IV वाहनों को पंजीकृत नहीं कराया था, उन्हें कोर्ट ने रजिस्ट्रेशन की अनुमति दे दी है.

कोर्ट ने कहा कि केवल उन BS-IV वाहनों को रजिस्टर्ड किया जाएगा, जिन्हें लॉकडाउन से पहले बेचा गया था और E वाहन पोर्टल पर अपलोड किया गया था. मतलब ये कि लॉकडाउन के बाद बेचे गए BS-IV वाहनों के रजिस्ट्रेशन पर रोक बरकरार रहेगी.

पिछली सुनवाई में उठाए थे सवाल

पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने लॉकडाउन के दौरान BS-IV वाहनों की बिक्री को लेकर सवाल खड़े किए थे. कोर्ट ने कहा था कि मार्च के आखिरी हफ्ते में सामान्य से ज्यादा वाहन बिके, जबकि इस दौरान लॉकडाउन था. इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने मार्च में BS-IV वाहन बिक्री के आंकड़े भी मांगे थे.

क्या है पूरा मामला

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने BS-IV वाहनों की बिक्री और रजिस्ट्रेशन के लिए 31 मार्च 2020 की डेडलाइन तय की थी. इसी के बीच में 22 मार्च को जनता कर्फ्यू था, जबकि 25 मार्च से देशव्यापी लॉकडाउन लागू हो गया. इधर डीलरों के पास बड़ी संख्या में BS-IV टू-व्हीलर और फोर-व्हीलर गाड़ियां बिक्री के लिए बची थीं. इसलिए डीलर BS-IV वाहनों की बिक्री और रजिस्ट्रेशन की डेडलाइन बढ़ाने की मांग करते हुए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे थे.

ये पढ़ें—BS-IV वाहनों के रजिस्ट्रेशन पर रोक बरकरार, मार्च की बिक्री पर SC ने उठाए सवाल

इसपर सुप्रीम कोर्ट ने डीलरों को 10 फीसदी BS-IV वाहनों को बेचने की परमिशन दी थी. इसके बाद आठ जुलाई को सुप्रीम कोर्ट ने अपने 27 मार्च के आदेश को वापस ले लिया. कोर्ट के इस फैसले के बाद 31 मार्च 2020 के बाद बिके BS-IV वाहनों के रजिस्ट्रेशन पर रोक लग गई. अब ताजा मामले में सुप्रीम कोर्ट ने लॉकडाउन से पहले के बिके वाहनों के रजिस्ट्रेशन की अनुमति दे दी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें