scorecardresearch
 

BJP कार्यकर्ता का आरोप, 5 अगस्त को प्रभु राम की पूजा की तो TMC के लोगों ने किया हमला

सुब्रत बासु उत्तर 24 परगना जिले के अशोक नगर का सक्रिय बीजेपी कार्यकर्ता है. सुब्रत बासु ने बताया कि 5 अगस्त को उसने अपने घर में भगवान राम की पूजा की थी. बीजेपी कार्यकर्ता का आरोप है कि गुरुवार को रात आठ बजे उसके घर में कई टीएमसी कार्यकर्ता घुस गए और उसके घर में तोड़ फोड़ की.

प्रतीकात्मक तस्वीर (पीटीआई) प्रतीकात्मक तस्वीर (पीटीआई)

  • 'घर के अंदर घुस TMC कार्यकर्ता ने की तोड़फोड़'
  • हमले के खिलाफ बीजेपी कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन
  • TMC नेता ने आरोपों से इनकार किया
पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में बीजेपी कार्यकर्ता ने आरोप लगाया है कि 5 अगस्त को अयोध्या में भूमिपूजन के मौके पर उसने अपने घर में भगवान राम की पूजा की थी. इससे नाराज टीएमसी कार्यकर्ताओं ने उस पर हमला कर दिया.

घर में घुसकर तोड़फोड़ का आरोप

सुब्रत बासु उत्तर 24 परगना जिले के अशोक नगर का सक्रिय बीजेपी कार्यकर्ता है. सुब्रत बासु ने बताया कि 5 अगस्त को उसने अपने घर में भगवान राम की पूजा की थी. बीजेपी कार्यकर्ता का आरोप है कि गुरुवार को रात आठ बजे उसके घर में कई टीएमसी कार्यकर्ता घुस गए और उसके घर में तोड़ फोड़ की. आरोप है कि टीएमसी कार्यकर्ताओं ने बीजेपी कार्यकर्ता को गालियां भी दी. घटना के बाद बीजेपी कार्यकर्ता ने अशोक नगर थाने में शिकायत दर्ज करवाई है.

पढ़ें- बंगाल पुलिस को दिलीप घोष की चेतावनी, कहा- सूद समेत वापस करूंगा

बीजेपी कार्यकर्ताओं का धरना प्रदर्शन

इस घटना के विरोध में शुक्रवार को स्थानीय बीजेपी कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन किया और रैली निकाली. घटना की जानकारी देते हुए सुब्रत बासु ने कहा, "बुधवार को मैंने अपने घर में राम पूजा आयोजित की थी, 20 से 30 लोग मेरे घर में घुस आए और तोड़-फोड़ की." सुब्रत बासु ने कहा कि उसके पिता भी बीजेपी के सदस्य रह चुके हैं और मैं भी बीजेपी में शामिल हुआ हूं, इसलिए मेरे घर में हमला हुआ है. उसने कहा कि मेरी किसी से कोई दुश्मनी नहीं है, मैंने इस घटना की जानकारी पुलिस को दे दी है.

स्थानीय टीएमसी नेता का हाथ

सुब्रत बासु ने कहा कि इस घटना के पीछे स्थानीय टीएमसी नेता ललन दास का हाथ है, घटना के वक्त में मैं अपने घर के अंदर में छुप गया था, क्योंकि मैं उनका मुकाबला नहीं कर सकता हूं.

पढ़ें- पत्नी से झगड़े के बाद बाप ने 3 बेटियों के साथ कुएं में कूदकर दी जान

आरोपों से ललन दास का इनकार

वहीं ललन दास ने बीजेपी कार्यकर्ता के आरोपों से इनकार किया है. ललन दास ने कहा, "सारे आरोप पूरी तरह से बेबुनियाद हैं, ये उनका अंदरूनी मामला है और कुछ नहीं, हमारी पार्टी का कोई नेता इसमें शामिल नहीं है, जब मैं घटना के दौरान सड़क से गुजर रहा था तो मैंने वहां हो हंगामा सुना, इसलिए वो मुझपर आरोप लगा रहे हैं." पुलिस अब इस मामले की जांच कर रही है.

(दीपक देबनाथ की रिपोर्ट)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें