scorecardresearch
 

पाकिस्तानी एयरस्पेस बंद होने से भारतीय एयरलाइंस को 549 करोड़ का घाटा

अकेले एयरइंडिया को 491 करोड़ का नुकसान झेलना पड़ा है. एयरस्पेस बंद होने से हर रोज 4.2 करोड़ का घाटा हो रहा है. 26 फरवरी से पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस बंद कर दिया था, जो अभी तक शुरू नहीं हो पाया है.

एयर इंडिया का विमान (IANS) एयर इंडिया का विमान (IANS)

बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद भारतीय एयरलाइंस को काफी नुकसान झेलना पड़ रहा है. एयरस्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस बंद कर दिया है. इस कारण अभी तक एयरलाइंस को 549 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है. इसमें अकेले एयरइंडिया को 491 करोड़ का नुकसान झेलना पड़ा है. एयरस्पेस बंद होने से हर रोज 4.2 करोड़ का घाटा हो रहा है. बता दें, 26 फरवरी से पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस बंद कर दिया था, जो अभी तक शुरू नहीं हो पाया है.

बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद पाकिस्तान के हवाई-क्षेत्र पर प्रतिबंध लगाने से एअर इंडिया को गल्फ देशों, यूरोप, और अमेरिका की फ्लाइट्स को लंबे रूट से गुजरना पड़ रहा. पाकिस्तानी एयरस्पेस बंद होने से नई दिल्ली से उड़ान भरने वाली एअर इंडिया की फ्लाइट्स को प्रति दिन करीब 6 करोड़ रुपए का नुकसान उठाना पड़ रहा है.

रूट डायवर्जन से अधिक ईंधन खर्च हो रहा है, वहीं केबिन स्टाफ का खर्च भी बढ़ रहा. जिससे कई बार फ्लाइट्स भी कैंसिल करनी पड़ी. एयरलाइंस सूत्र बताते हैं कि हवाई क्षेत्र बंद होने से नई दिल्ली से अमेरिका की फ्लाइट्स को 2 से 3 घंटे अधिक समय लग रहा है.

सबसे ज्यादा नुकसान एअर इंडिया को हुआ है. 2 जुलाई 2019 तक एअर इंडिया को करीब 491 करोड़ रुपए का नुकसान झेलना पड़ा है. यह जानकारी नागरिक विमानन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी ने राज्यसभा में पूछे गए एक सवाल के जवाब में दी. उन्होंने बताया कि पाकिस्तान ने मार्च में आंशिक रूप से अपना हवाई क्षेत्र खोला था लेकिन भारतीय उड़ानों के लिए प्रतिबंध बरकरार रखा था. इसलिए देश की चार विमानन कंपनियों को कुल 549 करोड़ रुपयों का नुकसान हुआ है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×