scorecardresearch
 

अरुणाचल में ट्रेनिंग के दौरान जवान की मौत पर हंगामा, सेना का विद्रोह से इनकार

सेना ने अपने बयान में कहा, 'पूर्वोत्तर में पैदल टुकड़ी के एक जवान की जान नियमित प्रशिक्षण के दौरान चली गई. लेकिन इसके बाद विद्रोह जैसी कोई स्थिति नहीं हुई.'

जवान ने की थी सीने में दर्द की शि‍कायत जवान ने की थी सीने में दर्द की शि‍कायत

सेना ने अरुणाचल प्रदेश में प्रशिक्षण के दौरान एक जवान की जान चली जाने के बाद पैदल टुकड़ी में 'विद्रोह' से रविवार को इनकार किया है. हालांकि सेना ने यह जरूर माना कि इस घटना के बाद अन्य जवान आक्रोशित हो गए थे और वरिष्ठ अधिकारी से उनकी झड़प भी हुई थी. बताया जाता है कि इस झड़प में एक अधिकारी घायल हुआ था, लेकिन 'विद्रोह जैसी' किसी स्थिति नहीं थी.

सेना ने अपने बयान में कहा, 'पूर्वोत्तर में पैदल टुकड़ी के एक जवान की जान नियमित प्रशिक्षण के दौरान चली गई. लेकिन इसके बाद विद्रोह जैसी कोई स्थिति नहीं हुई.' बताया जा रहा है कि जवान ने रूट मार्च शुरू होने से पहले सीने में दर्द की शिकायत की थी. चिकित्सा अधिकारियों ने उनकी जांच की थी और उन्हें फिट पाया था. लेकिन प्रशिक्षण के दौरान वह गिर पड़े. बाद में एंबुलेंस से अस्पताल ले जाने के दौरान ही जवान की मौत हो गई.

भावुक हो गए थे चार-पांच जवान
सेना के मुताबिक, इस घटना ने चार-पांच जवानों को अत्यधिक भावुक कर दिया और जब एक वरिष्ठ अधिकारी उन्हें ढांढस बंधा रहे थे, तभी उनका आक्रोश फूट पड़ा और वे अधिकारी से उलझ गए. सेना की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि इस घटना में कोई गंभीर रूप से घायल नहीं हुआ. मामले की जांच की जा रही है. जवान की मृत्यु के बाद उसके कुछ साथियों ने एक कैप्टन के साथ हाथापाई की, जिसके बाद 'विद्रोह' की खबरें आई थीं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें