scorecardresearch
 

BJP कार्यकर्ताओं की हत्या के लिए पिनाराई विजयन सीधे जिम्मेदार: अमित शाह

केरल की वामपंथी सरकार के खिलाफ बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह आज राज्य के कन्नूर जिले के पयन्नूर से त्रिवेंद्रम तक की राज्यव्यापी पदयात्रा का आगाज करेंगे. इस पदयात्रा को "जनसुरक्षा यात्रा" का नाम दिया है और ये 15 दिनों तक चलेगी

X
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (फाइल फोटो)
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (फाइल फोटो)

केरल में RSS-BJP के कार्यकर्ताओं की हो रही हत्या के खिलाफ बीजेपी पदयात्रा शुरू कर रही है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह केरल में जनसुरक्षा यात्रा के लिए कन्नूर  पहुंच गए हैं. अमित शान पहले कन्नूर के रामेश्वरम मंदिर में पूजा किया. अमित शाह ने कहा कि कम्युनिस्ट अपनी विचारधारा  फैलाने के लिए केरल के शांतिपूर्ण माहौल को लगातार खराब कर रहे हैं.

अमित शाह ने कहा कि केरल में 120 से अधिक बीजेपी और आरएसएस के कार्यकर्ता मारे गए. बीजेपी और आरएसएस कार्यकर्ताओं की हत्या के लिए पिनाराई विजयन सीधे जिम्मेदार है. उन्होंने कहा कि बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ताओं की निर्मम हत्या पर देश में फैले हुए मानवाधिकार चैम्पियन क्यों चुप हैं?

अमित शाह ने कहा कि पश्चिम बंगाल और त्रिपुरा में लंबे समय  तक कम्युनिस्ट  का शासन करने के बाद यहां की हालत देखें. विकास के मामले काफी पीछे छूट गया है.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कन्नूर में पार्टी कार्यकर्ताओं की तस्वीरों की प्रदर्शनी का उद्घाटन भी किया. केरल की वामपंथी सरकार के खिलाफ बीजेपी ने पूरी तरह से कमर कस लिया है और जमीनी पर संघर्ष करने के लिए आज से उतर रही है. केरल में RSS-BJP के कार्यकर्ताओं की हो रही हत्या के खिलाफ बीजेपी पदयात्रा शुरू कर रही है.

केरल की वामपंथी सरकार के खिलाफ बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह आज राज्य के कन्नूर जिले के पयन्नूर से त्रिवेंद्रम तक की राज्यव्यापी पदयात्रा का आगाज करेंगे. इस पदयात्रा को "जनसुरक्षा यात्रा" का नाम दिया है और ये 15 दिनों तक चलेगी. बीजेपी अध्यक्ष सहित पूरी मोदी कैबिनेट इस पदयात्रा में भाग लेगी.

मौदी की पूरी  कैबिनेट केरल में

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के नेतृत्व में मंगलवार को सुबह 11 बजे जनसुरक्षा यात्रा कन्नूर से त्रिवेंद्रम तक की शुरुआत की जायेगी. शाह पयन्नूर में महात्मा गांधी की प्रतिमा को माल्यार्पण करेंगे. इसके बाद वो अपने समर्थकों के साथ कम से कम चार किमी की यात्रा करेंगे. इस यात्रा में स्मृति ईरानी,गिरिराज सिंह, धर्मेंद्र प्रधान, अनंत कुमार और राजवर्धन सिंह राठौर, वीके सिंह और अन्य मंत्री अलग अलग दिन शामिल होंगे.

CM के क्षेत्र 84 हत्या-BJP

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जवाडेकर ने कहा कि राज्य सरकार केरल में हिंसा का एक तांडव चला रखा है. इस तांडव के खिलाफ बीजेपी पदयात्रा करेगी. उन्होंने कहा कि केरल में अभी तक 120 लोगो की हत्या हो चुकी है. खुद CM के क्षेत्र में 84 हत्या हुई हैं. CPM केरल में माओवादी बन गई है. इसीलिए इस यात्रा को बीजेपी ने जनसुरक्षा यात्रा नाम दिया गया है.

केरल के 11 जिलों में पदयात्रा

उन्होंने कहा कि केरल में बीजेपी ने 15 फीसदी वोट मिले हैं, लेकिन आगे ये 30 फीसदी तक होने जा रहा है. यही वजह है कि राज्य सरकार बौखला गई है.लेकिन हमलोग डरेंगे नहीं. इस यात्रा की अगुवाई बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष कुम्मानम राजशेखरन करेंगे. केरल के 14 में से 11 जिलों से होकर ये यात्रा गुजरेगी.

गौरतलब है कि संघ प्रमुख मोहन भागवत द्वारा केरल सरकार पर जिहादी एवं राष्ट्र विरोधी ताकतों का समर्थन करने का आरोप लगाने के बाद मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने केरल के मार्क्सवादी नेताओं की माओवादियों से तुलना करने को लेकर आज मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को आड़े हाथ लिया.

BJP पर CM का पलटवार

केरल CM पिनराई विजयन  ने कहा कि केंद्रीय मंत्रियों को संघीय ढांचे के सिद्धांत का पालन करना चाहिए. उन्होंने कहा कि बीजेपी नेता ऐसी  टिप्पणी इसलिए कर रहे हैं, क्योंकि दक्षिणी राज्य में संघ का एजेंडा लागू नहीं हो पा रहा है. बीजेपी और संघ के लोग बौखलाए हुए हैं.

विजयन ने बाद में एक फेसबुक पोस्ट में कहा कि भाजपा के मंत्रियों और संघ के नेताओं को केरल को बदनाम करने से बचना चाहिए. उन्होंने कहा कि शाह और बीजेपी के नेताओं को अपने समर्थकों से पूछना चाहिए कि डीवाईएफआई कार्यकर्ता की हत्या क्यों हुई.

दरअसल माकपा की युवा शाखा डीवाईएफआई के एक कार्यकर्ता की पिछले साल 11 जुलाई को हत्या कर दी गई थी माकपा महासचिव कोडियेरी बालकृष्णन ने भी जावड़ेकर को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि उन्हें अध्ययन करना चाहिए कि मार्क्सवाद क्या है.

CPM को कांग्रेस का साथ

वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रमेश चेन्नीतला ने कहा कि संघ द्वारा केरल को जिहादी ताकतों का केंद्र बताना उसकी हताशा का परिचायक है, क्योंकि वे लोग अपना एजेंडा राज्य में लागू करने में नाकाम हो गए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें