scorecardresearch
 

अमरनाथ यात्रा पर बड़े हमले की फिराक में हैं आतंकी गुट, अलर्ट पर सुरक्षाबल

खुफिया एजेंसी के मुताबिक, आतंकवादी गुट शांतिपूर्ण अमरनाथ यात्रा पर बड़े हमले की फिराक में हैं. इसके अलावा आतंकवादी सुरक्षाबलों को भी निशाना बना सकते हैं.

प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो

आतंकी गुट अमरनाथ यात्रा पर बड़े हमले की फिराक में हैं. खुफिया एजेंसी के हवाले से खबर मिली है कि आतंकी तीर्थयात्रियों पर अचानक हमला कर सकते हैं. सुरक्षाबल अलर्ट पर हैं.

अमरनाथ यात्रा रूट के अलावा सुरक्षाबलों का काफिला भी आतंकियों के निशाने पर है. खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक, 16 और 17 जुलाई को आतंकी कमांडर खुद यात्रा रूट से सटे इलाके में रेकी करने पहुंचे थे. बता दें कि आतंकी गुट बार-बार यात्रा रूट के नज़दीक रेकी के लिए पहुंच रहे हैं.

लश्कर कमांडर अबू हुरैरा खुद गुलाबबाग, ओहत्तरहमा और ज़कूरा में कैंप कर रहा था. जबकि लश्कर कमांडर सलीम पार्रे भी खुसर्पोरा हज़ीन के बागानों में दिखाई दिया. वहीं, लश्कर आतंकी मीर ज़रगम भी विजपारा इलाके में दिखा है.

हिजबुल आतंकी कमांडर मुज़फ्फर भट्ट भी कुलगाम के चेद्दर और मत्तालहमा में सुरक्षा बलों की रेकी कर रहा था. हिजबुल मुजाहिद्दीन के अब्बास शेख ग्रुप को भी कुलगाम के गज़नीपोरा और गासनिपोरा में घूम रहा है. जबकि हिजबुल आतंक लतीफ डार जो रियाज नाइकु गट से है, वो अवंतीपोरा में घूम रहा है.

खुफिया एजेंसियों का मानना है कि इन सभी आतंकियों की मंशा अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाने की है. साफ है साजिश गहरी है इसलिए यात्रा रूट में लगे सुरक्षाकर्मियों को अलर्ट रहने की हिदायत दी है. इसके अलावा आतंकी गुट लश्कर और जैश मिलकर सुरक्षाबलों पर हमला करने की साजिश में जुटे हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, लश्कर और जैश के कमांडर की तीन बैठक दादसुरा, त्राल और पुलवामा में हुई है. वहीं जैश आतंकियों का एक गुट शुक्रवार सुबह पंथा चौक में घूम रहा है, जिसका मकसद सुरक्षा काफिले पर ग्रेनेड हमले के अलावा सुरक्षा नाकों पर हमला कर हथियार छीनने का है. कहा जा रहा है कि गलन्दर न्यू बाइपास के अलावा पंथ चौक से प्रेमपुरा जाने वाले सड़क पर सुरक्षा बलों के काफिले पर हमला हो सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें