scorecardresearch
 

बीडब्ल्यूएफ का स्कर्ट का नियम एक जून तक स्थगित

भारत में खिलाड़ियों के विरोध का सामना कर रहे विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) ने अपने विवादास्पद नये नियम के लागू करने की तारीख एक महीने स्थगित करते हुए एक जून तय कर दी.

भारत में खिलाड़ियों के विरोध का सामना कर रहे विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) ने अपने विवादास्पद नये नियम के लागू करने की तारीख एक महीने स्थगित करते हुए एक जून तय कर दी.

इस नियम के अनुसार महिला बैडमिंटन खिलाड़ियों के लिये स्कर्ट पहनना अनिवार्य था. बीडब्ल्यूएफ ने एक बयान में कहा, ‘बैडमिंटन का नयी ड्रेस का नियम एक जून से लागू किया जायेगा जिससे संघों के सदस्यों और खिलाड़ियों को इस नये नियम के मुताबिक ढलने में एक और महीने का समय मिल जायेगा.’ यह नया नियम अगले हफ्ते यहां होने वाले इंडियन ओपन सुपर सीरीज के बाद लागू होता और भारतीय महिला खिलाड़ी इस ड्रेस संहिता से काफी असहज महसूस कर रही थीं.

शीर्ष बैडमिंटन साइना नेहवाल ने कहा था कि हालांकि वह स्कर्ट पहनने के खिलाफ नहीं है लेकिन ड्रेस चुनने का फैसला खिलाड़ियों पर ही छोड़ देना चाहिए. बीडब्ल्यूएफ ने कहा कि उन्हें इस नये नियम के संदर्भ में कई तरह का फीडबैक मिला है और वह खिलाड़ियों से बात करेंगे.

बीडब्ल्यूएफ के उपाध्यक्ष पी रंगसिकितफो ने कहा, ‘कभी कभार लगातार कार्यान्वयन के लिये नियम बनाने जरूरी है. बीडब्ल्यूएफ कई वषरें से बैडमिंटन ड्रेस निर्माताओं को ऐसे कपड़े बनाने और खिलाड़ियों को ऐसी ड्रेस पहनने के लिये प्रेरित कर रहा है जिससे खेल देखने में आकषर्क लगे.’

उन्होंने कहा, ‘हम हालांकि खिलाड़ियों की बात सुनने को तैयार हैं, इसलिये हमने इसे लागू करने की तारीख में देरी करने का फैसला किया है और अब इसे एक जून से लागू किया जायेगा.’ उन्होंने कहा, ‘इस दौरान हम खिलाड़ियों से दिशानिर्देश के बारे में बातचीत और इस संदर्भ में सलाह मश्विरा करेंगे.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें