scorecardresearch
 

छत्तीसगढ़ः बुरकापाल हमले में शामिल नक्सलियों समेत 19 नक्सली गिरफ्तार

अधिकारियों ने बताया कि सभी गिरफ्तार नक्सलियों को शनिवार को स्थानीय अदालत में पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया.

फाइल फोटोः गश्त पर निकले जवान फाइल फोटोः गश्त पर निकले जवान

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में पुलिस दल ने 19 नक्सलियों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार नक्सलियों में से नौ पर बुरकापाल हमले में शामिल होने का आरोप है. सुकमा जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने बुरकापाल हमले में शामिल नौ नक्सलियों को जिले के चिंतागुफा और चिंतलनार थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया है.

वहीं 10 अन्य नक्सलियों को कुकानार थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है. यह नक्सली बीते फरवरी माह में ट्रक में आग लगाने और पुलिस दल पर हमला करने की घटना में शामिल थे. अप्रैल महीने की 24 तारीख को सुकमा जिले के चिंतागुफा थाना क्षेत्र के अंतर्गत बुरकापाल में नक्सलियों ने पुलिस दल पर हमला कर दिया था. इस हमले में सीआरपीएफ के 25 जवान शहीद हो गए थे.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना के बाद पुलिस दल ने चिंतलनार, चिंतागुफा और बुरकापाल क्षेत्र से लगभग 12 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की थी. पूछताछ के दौरान नौ लोगों ने बुरकापाल हमले में शामिल होना स्वीकार किया है. उन्होंने बताया कि बुरकापाल हमले में शामिल होने के आरोप में पुलिस ने चिंतागुफा क्षेत्र से सोढ़ी लिंगा 30 वर्ष, सोढ़ी मुडा 45 वर्ष, पोडियामी जोगा 38 वर्ष, मड़कम भीमा 18 वर्ष, रावा आयता 20 वर्ष और मड़कम सोमडू 34 वर्ष को गिरफतार किया है.

दूसरी ओर चिंतलनार क्षेत्र से वेट्टी माला 26 वर्ष, मुचाकी नंदा 39 वर्ष और माडवी कोसा 40 वर्ष को गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार नक्सली माओवादियों के दंडकारण्य आदिवासी किसान मजदूर संगठन के सदस्य हैं. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि एक अन्य घटना में पुलिस ने 10 जनमिलिशिया सदस्यों को कुकानार पुलिस थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया है.

नक्सलियों को सीआरपीएफ, डीआरजी और जिला बल के संयुक्त दल ने गिरफ्तार किया है. उन्होंने बताया कि यह 10 नक्सली बीते फरवरी माह की 26 तारीख को जगदलपुर सुकमा मार्ग पर कुकानार क्षेत्र में पुलिस दल पर गोलीबारी करने और दो ट्रकों में आग लगाने की घटना में शामिल थे. अधिकारियों ने बताया कि सभी गिरफ्तार नक्सलियों को शनिवार को स्थानीय अदालत में पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें