scorecardresearch
 

जन लोकपाल विधेयक पारित हो तो कांग्रेस से गिला नहीं: केजरीवाल

गांधीवादी सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के सहयोगी अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को यह कहते हुए अपने तेवर में नरमी दिखाई कि यदि जन लोकपाल विधेयक पारित हो जाए तो उनकी टीम को कांग्रेस से कोई गिला-शिकवा नहीं रहेगी.

अरविंद केजरीवाल अरविंद केजरीवाल

गांधीवादी सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के सहयोगी अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को यह कहते हुए अपने तेवर में नरमी दिखाई कि यदि जन लोकपाल विधेयक पारित हो जाए तो उनकी टीम को कांग्रेस से कोई गिला-शिकवा नहीं रहेगी.

चेहरा पहचानें, जीतें ईनाम. भाग लेने के लिए क्लिक करें

हिसार जिले के आदमपुर कस्बे में एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस के खिलाफ उनकी टीम का प्रचार अभियान प्रभावी लोकपाल विधेयक पारित होने तक ही चलेगा. उन्होंने जनसमूह से कहा, ‘यदि देश से भ्रष्टाचार को मिटाने वाला जन लोकपाल विधेयक पारित हो जाए तो हमें कांग्रेस से कोई विरोध नहीं है. यदि ऐसा हो जाए तो हम कांग्रेस के खिलाफ वोट देने के लिए किसी से नहीं कहेंगे.’

पढ़ें: दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘अन्ना को गुमराह किया जा रहा है’
उन्होंने स्पष्ट किया कि टीम अन्ना किसी से यह नहीं कह रही है कि किसी खास पार्टी को वोट दीजिए.

केजरीवाल ने कहा, ‘अगर टीम अन्ना के अभियान के बाद भी कोई भ्रष्ट नेता चुनकर संसद में जाता है तो जन लोकपाल विधेयक उसके खिलाफ उचित कार्रवाई सुनिश्चित करेगा.’

हिसार लोकसभा उपचुनाव में कांग्रेस के खिलाफ टीम अन्ना के प्रचार अभियान में सोमवार को पूर्व पुलिस अधिकारी किरण बेदी और मनीष सिसोदिया भी शामिल हुए.

देखें अन्ना हजारे ने फिर भरी हुंकार
गौरतलब है कि हिसार लोकसभा सीट इस वर्ष जून में इस सीट से सांसद और तीन बार हरियाणा के मुख्यमंत्री रहे भजनलाल के निधन के कारण रिक्त हो गई थी. भजनलाल यहां से मई 2009 के लोकसभा चुनाव में विजयी हुए थे.

उल्लेखनीय है कि हिसार लोकसभा सीट से हरियाणा जनहित कांग्रेस (हजकां) से दिवंगत भजनलाल के पुत्र कुलदीप बिश्नोई, इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के अजय चौटाला और तीन बार सांसद रह चुके कांग्रेस के जयप्रकाश चुनाव मैदान में हैं. मतदान 13 अक्टूबर को होगा और परिणाम की घोषणा 17 अक्टूबर को होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें